मुंबई। अपनी कॉमेडी और हाज़िरजवाब अंदाज़ की वजह से कपिल शर्मा को वैसे तो काफ़ी पसंद किया जाता है, मगर कभी-कभी सोशल मीडिया में उनकी ट्रोलिंग भी हो जाती है। होली के त्यौहार के मौक़े पर कपिल शर्मा ने अपना ऐसा रंग दिखाया है कि ट्रोलर्स की भी बोलती बंद हो जाएगी। 

आपको याद होगा कि पिछले दिनों पुलवामा टेरर अटैक को लेकर नवजोत सिंह सिद्धू के बयान के बाद कपिल को सोशल मीडिया में जमकर ट्रोल किया गया था। सिद्धू को शो से निकालने की मांग की जाने लगी थी। ऐसा ना करने पर कपिल के शो का बहिष्कार करने की मुहिम चलाने की धमकी भी दी गयी थी। मगर, कपिल ने ना सिर्फ़ सिद्धू के बयान को जस्टिफाई किया था, बल्कि उन्हें शो से निकाल देने की मांग को भी ख़ारिज़ कर दिया था। यह अलग बात है कि किन्हीं और कारणों से सिद्धू द कपिल शर्मा शो से बाहर हो गये थे और उनकी जगह अर्चना पूरन सिंह ने ले ली थी। अब ट्रोलिंग को लेकर कपिल ने हाल ही में एक दिलचस्प बात कही है।

11 मार्च को गोवा में हुई एक इवेंट में शिल्पा शेट्टी ने कपिल से ट्रोलर्स को लेकर सवाल किया था। कपिल ने ट्रोलर्स की 3 श्रेणियां बताते हुए कहा- ''सोशल मीडिया में तीन तरह के फॉलोअर्स होते हैं, एक फ़ैन हैं, दूसरे फ़ैन होने के साथ-साथ आलोचक भी हैं और तीसरी प्रजाति वेल्ले (जिन्हें कोई काम नहीं) लोगों की है। मैं उनका शुक्रिया अदा करता हूं, जो मेरे काम के बारे में स्वस्थ आलोचना करते हैं, लेकिन तीसरी प्रजाति के पास कोई काम नहीं होता, ये सिर्फ़ नकारात्मकता फैलाते हैं।''

कपिल ने आगे कहा कि ये अनियोजित बच्चों की तरह होते हैं, जो बिना किसी प्लानिंग के इस दुनिया में आ जाते हैं। वो इसलिए पैदा हुए थे, क्योंकि मौसम अच्छा था। लेकिन मैंने अब समझ लिया है कि उनसे निपटने का एक ही तरीक़ा है कि उन पर ध्यान मत दो, उन्हें नज़रअदाज़ करो। कपिल ने आगे कहा कि सबके मोबाइल में फ्री डाटा है, इसलिए ध्यान देने से कोई फ़ायदा नहीं। 

सुनील ग्रोवर से झगड़ा होने के बाद से ही कपिल शर्मा का शो पटरी से उतरा हुआ था, लेकिन पिछले साल दिसम्बर में गिन्नी चतरथ से शादी के बाद उन्होंने द कपिल शर्मा शो के ज़रिए वापसी की। इस बार शो को सलमान ख़ान की कंपनी प्रोड्यूस कर रही है। हालांकि ताज़ा टीआरपी की रेस में कपिल का शो पिछड़ गया है। टॉप स्लॉट से खिसककर यह छठे नंबर पर आ गया है। 

Posted By: Manoj Vashisth

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप