नई दिल्ली,जेएनएन। साल 1983 में भारत ने पहली बार विश्वकप जीतकर क्रिकेट के दुनिया में अपना परचम लहराया। इस विश्वकप विजेता क्रिकेट टीम के हीरो थे कपिल देव। साल 1983 के विश्वकप को लेकर डायरेक्टर कबीर ख़ान '83' बना रहे हैं। इसमें  रणवीर सिंह उनका कपिल देव का किरदार निभा रहे हैं। इसको लेकर कपिल देव ने दैनिक जागरण की स्मिता श्रीवास्तव से बात की। उन्होंने बताया कि लगातार खिलाड़ियों पर बनती फ़िल्मों को लेकर वो गर्व महसूस करते हैं। 

कपिल देव ने खिलाड़ियों पर बन रही बायोपिक पर कहा,'लोग क्या समझते हैं, हमें नहीं पता। लेकिन हम गर्व और खुशी महसूस करते हैं। वैसे मुझे यह भी लगता है कि खिलाड़ियों पर बायोपिक इतनी जल्दी नहीं बननी चाहिए। इस बारे में हर एक की राय है।' उन्होंने रणवीर सिंह को लेकर कहा, 'अगर रणवीर सिंह क्रिकेट खेलते, तो एक्टर से भी अच्छा काम कर सकते थे, क्योंकि बहुत कम समय में उन्होंने मेरे हावभाव को वैसा दिखाया जैसा उम्मीद  की जा रही थी। मैं तो खुश और हैरान था।'

कपिल देव ने सिनेमा के लगाव को लेकर कहा, 'सिनेमा से सभी को लगाव होता है। हम सभी फ़िल्में और अपने दौर के कलाकारों को देखकर बड़े हुए हैं। मनोरंजन सबसे ज्यादा फ़िल्मों में होता है। उस समय देवांनद साहब, दिलीप कुमार, अमिताभ बच्चन, धर्मेंद्र, राजकुमार, विनोद खन्ना बहुत सारे अभिनेता प्रिय हुआ करते थे। फेहरिस्त बहुत लंबी है सबके नाम लेना मुश्किल है। उन्हें देखकर प्रेरित होते थे। सुपरस्टार राजेश खन्ना का स्टाइल और अदाएं शीशे के सामने खड़े होकर कॉपी करते थे। मेरे ख्याल से उस समय हर भारतीय यह करता था।'

बता दें कि हाल ही इस फ़िल्म को लेकर दो नए पोस्टर सामने आए हैं।  एक्टर रणवीर सिंह ने हाल ही में अपने इंस्टाग्राम अकाउंट से ये पोस्टर शेयर किए हैं। पोस्टर में  ताहिर भसीन भारतीय बल्लेबाज़ सुनील गावस्कर के किरदार में नज़र आ रहे हैं। वहीं, इसके अलावा ओपनर बल्लेबाज कृष्णम्माचारी श्रीकांत का भी पोस्टर सामने आ चुका है। कुल मिलाकर फ़िल्म ने बज़ बनाना शुरु कर दिया है। फ़िल्म 10 अप्रैल, 2020 को रिलीज़ होगी। 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस