नई दिल्ली, जेएनएन। बॉलीवुड की 'पंगा' 'क्वीन' कंगना रनोट अपनी दमदार एक्टिंग के अलावा अपनी बेबाकी के लिए जानी जाती हैं। कंगना किसी भी मुद्दे पर अपनी बात रखने में कभी पीछे नहीं हटती हैं। फिर चाहें वो मुद्दा देश से जुड़ा हो, राजनीति से जुड़ा हो या फिल्म इंडस्ट्री से। कंगना सोशल मीडिया के जरिए अपना हर इमोशन ज़ाहिर करती हैं। इस वजह से एक्ट्रेस को आए दिन सोशल मीडिया परा काफी ट्रोल भी किया जाता है।

हाल ही में कंगना पश्चिम बंगाल में हुए इलेक्शन के बाद से लगातार अपने ट्विटर अकाउंट पर कुछ न कुछ पोस्ट शेयर कर रही थीं। इसी बीच कंगना का ट्विटर अकाउंट सस्पेंड कर दिया गया है। अगर आप कंगना का ट्विटर अकाउंट सर्च करेंगे तो उसपर साफ-साफ शब्दों में ‘Account Suspended’ लिखा आ रहा है। हालांकि ट्विटर ने अचानक ये कदम क्यों उठाया है इस बारे में अभी कोई जानकारी सामने नहीं आई है और न ही फिलहाल कंगना रनोट या उनकी टीम की तरफ से कोई बयान सामने आया है। लेकिन माना जा रहा है कि बंगाल में जीतने वाली पार्टी TMC के खिलाफ ट्वीट करने की वजह से शायद ये फैसला लिया गया है।

 

आपको बता दें कि हाल ही में बंगाल चुनाव में बीजेपी की हार और तृणमूल कांग्रेस की जीत के बाद कंगना रनोट ने सिलसिले वार कई ट्वीट किए थे। जिसमें उन्होंने बंगाल में हुई हिंसा को लेकर सीधे तौर पर टीएमसी पर कई आरोप लगाए थे। जिसमें यौन शोषण से लेकर मर्डर तक शामिल था। इतना ही नहीं कंगना रनोट ने सीधे बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर भी निशाना साधा था।

अपने एक ट्वीट में एक्ट्रेस ने लिखा था, 'भाजपा को असम और पांडुचेरी में जीत हासिल हुई, लेकिन वहां से किसी हिंसा की कोई खबर नहीं आई। टीएमसी बंगाल का चुनाव जीती और वहां से सैकड़ों लोगों के मरने की खबर आ गई, लेकिन लोग कहेंगे कि मोदीजी तानाशाह हैं और ममता बनर्जी एक धर्मनिरपेक्ष नेता...बस बहुत हो गया'। अपने इस ट्वीट के साथ कंगना रनोट ने हैशटैग में #BengalisBurning #PresidentruleinBengal लिखा था। हालांकि ये पहली बार नहीं था जब कंगना किसी पर इतनी आक्रामक हुई हों। कंगना पहले भी महाराष्ट्र सरकार से लेकर, कांग्रेस और फिल्म इंडस्ट्री के फेमस कई नामी चेहरों को घर चुकी हैं।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप