नई दिल्ली, जेएनएन। बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनोट सामाजिक-राजनीति मुद्दों पर बेबाकी से बोलने के लिए जानी जाती हैं। बीते दिनों राजनीतिक मुद्दे पर बोलने की वजह से उनका ट्विटर अकाउंट स्थायी रूप से सस्पेंड कर दिया गया था। इसके बावजूद कंगना रनोट अब भी किसी भी मुद्दे पर अपनी राय देने में बिल्कुल भी नहीं कतरा रही है। वह अब भी सोशल मीडिया पर खुलकर सामाजिक-राजनीति मुद्दों पर बोल रही हैं।

ट्विटर अकाउंट सस्पेंड हो जाने के बाद अब कगंना रनोट अपनी राय देने के लिए इंस्टाग्राम का इस्तेमाल कर रही हैं। उन्होंने एक बार फिर से पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को लेकर अपनी प्रतिक्रिया दी है। कंगना रनोट ने अपने आधिकारिक इंस्टाग्राम अकाउंट की स्टोरी पर एक खबर साझा की है। यह खबर सोमवार को तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के नए मंत्रिमंडल के शपथ ग्रहण समारोह की है।

इस खबर में एक तस्वीर भी नजर आ रही है, जिसमें टीएमसी का एक नेता मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के चरण स्पर्श कर आशीर्वाद लेता दिखाई दे रहा है। इस खबर को साझा करते हुए कंगना रनोट ने अपनी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने अपने पोस्ट में लिखा, 'इसी बीच राक्षसी ताडका, सत्ता की चरण वंदना।' सोशल मीडिया पर कंगना रनोट का यह पोस्ट तेजी से वायरल हो रहा है।

आपको बता दें कि बीते दिनों कंगना रनोट का ट्विटर अकाउंट हमेशा के लिए सस्पेंड कर दिया गया है। पश्चिम बंगाल में हुए विधानसभा चुनाव की मतगणना के बाद राज्य में हिंसा की खबरें आ रही थीं। कई बीजेपी नेताओं ने आरोप लगाये थे कि टीएमसी कार्यकर्ता बीजेपी कार्यकर्ताओं पर हमले कर रहे हैं। इन्हीं ख़बरों पर प्रतिक्रिया देते हुए कंगना ने आपत्तिजनक ट्वीट किया था, जिसके बाद उनका वैरीफाइड ट्विटर एकाउंट स्थायी रूप से सस्पेंड कर दिया गया था।

एकाउंट सस्पेंड किए जाने तक कंगना रनोट के 3 मिलियन फॉलोअर्स थे।

अगर आप कंगना का ट्विटर अकाउंट सर्च करेंगे तो उसपर साफ-साफ शब्दों में ‘Account Suspended’ लिखा आ रहा है। वहीं ट्विटर के प्रवक्ता ने एक बयान जारी कर कंगना रनोट के ट्विटर अकाउंट सस्पेंड होने को लेकर प्रतिक्रिया दी थी। प्रवक्ता ने अपने बयान में कहा, 'हम स्पष्ट करना चाहते हैं कि हम उस व्यवहार पर मजबूत कार्रवाई करेंगे, जिसमें ऑफलाइन नुकसान पहुंचाने की क्षमता हो। ट्विटर नियमों के बार-बार उल्लंघन करने, विशेष रूप से हमारी घृणित आचरण नीति और अपमानजनक व्यवहार नीति के तहत स्थायी रूप से निलंबित कर दिया गया है। हम अपनी सेवा पर हर किसी के लिए निष्पक्ष रूप से ट्विटर नियमों को लागू करते हैं।'  

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप