नई दिल्ली, जेएनएन। जॉन अब्राहम (John Abraham) के लिए एक राहत भरी ख़बर आयी है। दिल्ली हाई कोर्ट के (Delhi High Court) फ़ैसले बाद फ़िल्म की रिलीज़ का रास्ता साफ़ हो गया है। हालांकि उच्च न्यायालय ने कुछ बदलाव करने के निर्देश दिये हैं, जिसके लिए मेकर्स तैयार हो गये हैं।

बाटला हाउस (Batla House) 15 अगस्त पर रिलीज़ हो रही है। पीटीआई की ख़बर के अनुसार, मंगलवार को दिल्ली हाई कोर्ट ने फ़िल्म को क्लीन चिट दे दी। न्यायाधीश विभु बाखरू ने कंसेंट ऑर्डर जारी करते हुए कहा कि फ़िल्ममेकर्स अपने बयान से बंधे हुए हैं। इसके साथ ही उन्होंने याचिका को खारिज कर दिया। बाटला हाउस के निर्माता कुछ डिस्क्लेमर लगाएंगे और कुछ दृश्य भी डिलीट किये जाएंगे। इन दृश्यों पर याचिकाकर्ता आरिज़ ख़ान और शहज़ाद अहमद ने आपत्ति जताई थी। आरिज़ बाटला हाउस एनकाउंडर केस में ट्रायल पर है। वहीं, शहज़ाद अहमद को ट्रायल कोर्ट ने आजीवान कारावास की सज़ा सुनाई थी। उसने हाई कोर्ट में अपील की हुई है।

याचिका में कहा गया था कि फ़िल्म स्वतंत्रता दिवस पर रिलीज़ हो रही है। इसमें बॉम्ब ब्लास्ट और एनकाउंटर के बीच लिंक दिखाया गया है, जिससे दोनों मामलों में ट्रायल कोर्ट प्रभावित हो सकती हैं। बता दें कि बाटला हाउस सितम्बर 2008 में दिल्ली के बाटला हाउस में हुए एनकाउंटर पर आधारित फ़िल्म है। फ़िल्म में दिखाया गया है कि एनकाउंटर के बाद कैसे पुलिस अफ़सरों की ज़िंदगी बदल जाती है। 

निखिल आडवाणी निर्देशित बाटला हाउस में जॉन अब्राहम डीसीपी संजीव कुमार यादव का किरदार निभा रहे हैं। जॉन ने एक इंटरव्यू में कहा था कि बाटला हाउस उनके लिए सिर्फ़ एक फ़िल्म नहीं है, बल्कि उससे कहीं बड़ी एक मानवीय कहानी है, जिसमें अपना फ़र्ज़ निभाने वाले अफ़सर को निजी ज़िंदगी में तमाम दुश्वारियों का सामना करना पड़ा था।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Manoj Vashisth