मुंबई। हॉलीवुड के बाद बॉलीवुड में मी टू कैंपेन का तूफान उठा है और इसके अंतर्गत कई दिग्गज फिल्मी कलाकारों पर आरोप लगाए गए हैं। इसको लेकर कई महिला कलाकारों ने भी अपनी प्रतिक्रिया सामने रखी है। इसको लेकर प्रसिद्ध गायिका जसपिंदर नरूला ने उन सभी महिला कलाकारों को गुडलक कहा है जिन्होंने मी टू कैंपेन के तहत अपनी आवाज बुलंद की है। 

जसपिंदर नरूला हाल ही में निर्देशिका सीमा कपूर की फिल्म हाट द वीकली बाजार की स्क्रीनिंग पर पहुंची थी। इस फिल्म के गीत को उन्होंने आवाज भी दी है। इस मौके पर जागरण डॉट कॉम से खास बातचीत में जसपिंदर ने मी टू कैंपेन को लेकर अपने विचार रखे। जसपिंदर नरूला ने कहा कि, ''मैं इस बारे में कुछ नहीं कहूंगी क्योंकि यह निजी चीज है। जो कह रहे हैं उनको गुडलक और जो नहीं कहना चाहते तो कुछ नहीं कर सकते। लेकिन अगर इतने साल हो गए हैं और किसी के साथ कुछ गलत हुआ है और अगर वो कहना चाह रहा है तो वो कहे। यह बहुत निजी मामला है। यह सबकी अपनी सोच और अपना एक्सपीरियंस है जिसे जिस प्रकार बोलना है बोल रहे हैं। 

आपको बता दें कि, दिवंगत अभिनेता ओम पुरी की पत्नी सीमा कपूर के निर्देशन में बनी फिल्म हाट द वीकली बाजार राजस्थान के एक छोटे गांव की कहानी है जिसमें पुरानी प्रथा की मान्यता को दिखाया गया जिसके कारण महिलाओं पर घोर अत्याचार सहना पड़ते हैं। साथ ही महिला के सामने आने वाली परेशानियों के साथ महिला स्वतंत्रता को बखूबी दर्शाया गया है। महिला के अस्तित्व और उनकी स्वतंत्रता की बात की गई है। 

यह भी पढ़ें: Me too: ओम पुरी की पत्नी सीमा कपूर बोली, ज्यादती के खिलाफ आवाज उठाने की हिम्मत का स्वागत

फिल्म की स्क्रीनिंग के मौके पर बोनी कपूर, जाह्नवी कपूर, दिव्या दत्ता, सीमा कपूर, जसपिंदर नरूला सहित अन्य कलाकार मौजूद थे। इस फिल्म में दिव्या दत्ता, अर्चना पूरन सिंह, मीनल कपूर, मुकेश तिवारी, यशपाल शर्मा और अोरोशिखा डे की अहम भूमिकाएं हैं। इस अवसर पर मुंबई के माटूंगा स्टेशन पर काम करने वाली महिलाओं को सम्मान किया गया।

यह भी पढ़ें: Me too: महिलाओं को दबाया जाता है, मौका मिलने पर किया जाता है परेशान- दिव्या दत्ता

Posted By: Rahul soni

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप