मुंबई। बॉलीवुड में इन दिनों स्टार किड्स की धूम मची हुई है। हर रोज़ किसी ना किसी स्टार किड के फ़िल्मी पारी शुरू करने की ख़बरें आती रहती हैं, मगर जिन पर पूरी इंडस्ट्री की नज़रें टिकी हैं, वो हैं जाह्नवी कपूर और सारा अली ख़ान। ये दोनों रियल लाइफ़ में अच्छी दोस्त तो हैं ही, इनके करियर पाथ भी तक़रीबन एक जैसे हैं। 12 अगस्त को सारा जन्म दिन भी मनाती हैं। इसी मौक़े पर आपको बताते हैं कि कैसे सारा और जाह्नवी के करियर की डोर एक-दूसरे से जुड़ गयी है। 

दिवंगत वेटरन एक्ट्रेस श्रीदेवी की बेटी जाह्नवी को तो आप में से बहुत लोग 'धड़क' के ज़रिए पर्दे पर देख ही चुके होंगे, अब इंतज़ार सारा अली ख़ान के हुनर को देखने का है, जो इस साल दिसम्बर में 'सिम्बा' से अपनी फ़िल्मी पारी शुरू करने जा रही हैं। इन दोनों युवा अभिनेत्रियों का करियर अभी शुरू हो रहा है, लिहाज़ा किसी प्रकार की तुलना बेमानी और बेमतलब है, मगर हिंदी सिनेमा के हुनरमंद और लोकप्रिय फ़िल्मी परिवारों से ताल्लुक होने के कारण इनकी एक-एक चाल और चलन पर दर्शकों की उत्सुकता भरी निगेहबानी लाज़िमी है। जाह्नवी का करियर टेक ऑफ़ हो चुका है और सारा दिसम्बर में पर्दे पर आ जाएंगी, मगर  इनके करियर में अभी से कुछ समानताएं देखने को मिल रही है, जिनका ज़िक्र हम एक-एक करके यहां करते हैं।

करण जौहर

 

जाह्नवी और सारा, दोनों के फ़िल्मी जीवन का पहला कॉमन फैक्टर करण जौहर हैं, जिन्हें बॉलीवुड स्टार किड्स का लांचिंग व्हीकल माना जाता है। करण ने जाह्नवी को 'धड़क' से बॉलीवुड भेजा, तो सारा उनकी ही फ़िल्म 'सिम्बा' से बॉलीवुड पारी का आग़ाज़ करेंगी। वैसे 'सिम्बा' सारा की पहली फ़िल्म नहीं है। यह उनकी पहली रिलीज़ फ़िल्म हो सकती है, मगर उनकी पहली साइन फ़िल्म 'केदारनाथ' है, जिसे अभिषेक कपूर डायरेक्ट कर रहे हैं और सुशांत सिंह राजपूत उनके हीरो हैं। सारा का डेब्यू इसी फ़िल्म से होता, अगर यह फ़िल्म निर्माता-निर्देशक के झगड़ों और शूटिंग में डिले नहीं होती।

रणवीर सिंह

जाह्नवी और सारा के फ़िल्मी करियर का दूसरा अहम फैक्टर रणवीर सिंह बन गये हैं। हाल ही में करण ने अपनी अति महत्वाकांक्षी फ़िल्म 'तख़्त' का एलान किया है। यह इतिहास के पन्नों से निकली गाथा है, जिसमें मुग़ल शासक औरंगज़ेब की कहानी दिखायी जाएगी। औरंगज़ेब के किरदार के लिए करण ने रणवीर सिंह का चुनाव कर लिया है। उनके अलावा फ़िल्म में करीना कपूर ख़ान, विक्की कौशल, आलिया भट्ट, भूमि पेडनेकर, अनिल कपूर भी मुख्य स्टार कास्ट का हिस्सा होंगे, लेकिन जो सबसे अहम नाम है, वो है जाह्नवी कपूर। करण की इस फ़िल्म का हिस्सा बनने पर जाह्नवी ख़ुद को ख़ुशक़िस्मत मानती हैं।

 

 

 

So excited, blessed and honoured to be a part of this journey. @karanjohar 🙏🏼🙏🏼🙏🏼🙏🏼🙏🏼

A post shared by Janhvi Kapoor (@janhvikapoor) on

मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो फ़िल्म में जाह्नवी और रणवीर के किरदारों के बीच लव एंगल दिखाया जाएगा। जाह्नवी फ़िल्म में हीराबाई जैनाबादी के रोल में हैं, जिससे औरंगज़ेब को मोहब्बत हो गयी थी। यानि रणवीर, जाह्नवी के दूसरे हीरो हैं, अगर इस बीच उनकी कोई और फ़िल्म रिलीज़ नहीं होती है, क्योंकि 'तख़्त' 2020 में दर्शकों के बीच पहुंचेगी। वहीं, सारा के भी दूसरे हीरो रणवीर सिंह हैं, जो 'सिम्बा' में लीड रोल में हैं। रोहित शेट्टी निर्देशित फ़िल्म में रणवीर एक पुलिस अफ़सर के किरदार में दिखेंगे, जबकि सारा उनकी लव लाइफ़ बनी हैं।

बाहरी निर्माताओं ने किया लांच

जाह्नवी और सारा के बीच एक दिलचस्प समानता यह भी है कि इन दोनों ही नवोदित अदाकाराओं को उनके परिवारों ने बॉलीवुड में लांच नहीं किया है। जाह्नवी के पिता बोनी कपूर ख़ुद जाने-माने निर्माता हैं, मगर जाह्नवी के करियर के लिए करण जौहर पर भरोसा जताया। वहीं, सारा के पिता सैफ़ अली ख़ान हिंदी सिनेमा के लोकप्रिय अभिनेता होने के साथ सक्षम प्रोड्यूसर भी हैं, फिर भी सारा को लांच करने की ज़िम्मेदारी पहले रॉनी स्क्रूवाला और फिर करण जौहर को दी गयी।

By Manoj Vashisth