नई दिल्ली, फीचर डेस्क। इंटरनेशनल योगा डे 2019 के मौके पर पूरा देश योग दिवस मना रहा है। फिल्मी सितारों से लेकर आम लोग तक सभी योग को लेकर काफी जागरुक हैं। इस मौके पर कई फिल्मी सातरों ने बताया है कि योग उन्हें कैसे फिट रखता है। पढ़ें किसने क्या कहा :

मल्लिका सेहरावत

मल्लिका सहरावत इन दिनों भारत में अपनी पहले हॉरर कॉमेडी वेबसीरीज 'बू....सबकी फटेगी’ का प्रमोशन कर रही हैं। पिछले सोलह सालों से एक्टिंग की दुनिया में सक्रिय मल्लिका जैकी चैन के साथ चाइनीज और हॉलीवुड की फिल्मों में भी अपने काम के लिए सराहना बटोर चुकी हैं। फिटनेस के लिए उन्होंने नियमित योग को अपनी दिनचर्या में शामिल किया है।

योग से मिला मानसिक संबल

मल्लिका का मानना है कि व्यस्त जीवनशैली में योग ही है जो उन्हें शांत रखता है। वह कहती हैं, 'योग की वजह से मैं पहले से ज्यादा शांत और संतुलित हो गई हूं। मैं कई सालें से अयंगर योग का अभ्यास कर रही हूं। बी के अंयगर जी मेरे गुरु रहे हैं। मेरे लिए योग केवल शारीरिक फायदों के लिए नहीं है। योग के बाद शरीर को लाभ तो पहुंचता ही है, लेकिन यह मुझे मानसिक तौर पर भी अच्छा महसूस कराता है। यह भावनात्मक रूप से आपको मजबूत बनाता है। मैंने कई लोगों को कहते हुए सुना है कि योग बहुत ही धीमा होता है, इस वजह से वे जिम में चले जाते हैं। मेरा मानना है कि शरीर पर जिम का असर सतही होता है। योग गहराई तक जाकर अंगरूनी अंगों और कोशिकाओं पर काम करता है। योग का आनंद लेने के लिए थोड़ा वक्त जरूर लग सकता है, लेकिन इसके फायदे उतने ही बड़े हैं।

जरूर करें ये आसन

सोने से पहले और सुबह उठने के बाद मल्लिका योग के दो आसन करने की सलाह देती हैं। वह बताती हैं, 'अगर आप पश्चिमोत्तानासन करेंगे, तो रात में एक बच्चे की तरह गहरी नींद में सोएंगे। इस आसन से सारा तनाव निकल जाता है। सुबह चक्रासन करने से आप मैराथॉन में भी दौड़ सकते हैं। यह बदलाव मैंने खुद में देखे हैं। जब मैं ट्रैवलिंग करती हूं तो नियमित योग कर पाना मेरे लिए संभव नहीं हो पाता है। मेरा मानना है कि अगर रोजाना दस मिनट के लिए प्राणायाम का एक अच्छा सा सेशन किया जाए तो उससे आप हल्का और अच्छा महसूस करेंगे। सर्वांगासन या पश्चिमोत्तानासन करना मेडिटेशन का ही एक प्रकार है। नियमित तौर पर वज्रासन जरूर करना चाहिए। यह आसन पाचन के लिए बहुत अच्छा होता है। खाना के बाद अगर आप वज्रासन में बैठेंगे तो खाना आसानी से पच जाएगा और एसिडिटी की समस्या नहीं होगी।

स्वयं से साक्षात्कार

मल्लिका देश-विदेश की सैर करती रहती हैं, लेकिन उनका मानना है कि जिस तरह का योग भारत में किया जाता है, वैसा कहीं और देखने को नहीं मिलता है। बकौल मल्लिका, 'योग भारत की देन है। विदेशों में भी योग को पसंद किया जाता है, लेकिन किसी विदेशी योग टीचर के साथ योग करने में मुझे कभी मजा नहीं आया। वे इसे फैशन योग बना देते हैं। योग एक तरह का सफर है, जिसमें आपको खुद को अंदर से महसूस करना होता है। योग करते समय संगीत नहीं होना चाहिए। विदेश में फैशन योग कराया जाता है। जिस कमरे में योग होता है, वहां पर चारों तरफ आइने लगे होते हैं। संगीत बजता रहता है। योग आईने के सामने कभी नहीं किया जा सकता है। अगर आप शीशे में नजर आएंगे तो ध्यान कैसे लगा पाएंगे। वहां योग के साथ वजन की ट्रेनिंग भी होती है जो मुझे पसंद नहीं है। बहरहाल मैंने देखा है कि विदेशी कलाकार भी योग में दिलचस्पी रखते हैं। जैकी चैन बहुत अच्छा योग करते हैं। ताइ ची, कुंग फू योग का ही हिस्सा है।

गंगा किनारे योग

योग के लिए अपनी पसंदीदा जगह की बात करते हुए मल्लिका बताती हैं, 'मुझे अपने घर के अलावा ऋषिकेश में योग करना बहुत अच्छा लगता है। ऋषिकेश में गंगा के किनारे योग करने का अनुभव बेहद सुखद होता है।

दिलजीत दोसांझ ने बताए योग के फायदे

मैंने महीने भर पहले ही योग करना शुरू किया है। अनुलोम-विलोम प्राणायाम से मेरा सर्दी-जुकाम ठीक हो गया है। कपालभाति भी करता हूं। योग की शुरुआत मैंने यूट्यूब देखकर की थी। एक दिन मुझे पीठ दर्द था। मैंने यूट्यूब पर बाबा रामदेव की योग वाली वीडियो देखा। वह देखकर मैंने एक-दो आसन किए, जिससे दर्द ठीक हो गया। उसके बाद से मैंने योग शुरू कर दिया। अब यह मेरी दिनचर्या का हिस्सा है।

कोंकणा सेन शर्मा भी करती हैं योग

जब मैं गर्भवती थी, तब मेरा वजन बीस किलो तक बढ़ गया था। डिलीवरी के बाद जब वजन कम करने की बारी आई तब मैंने योग का सहारा लिया। योग के जरिए मैं बीस किलो वजन कम कर पाई। मैं योग करना पसंद करती हूं, लेकिन मुझे लगता है प्रभावशाली और स्वस्थ जीवन के लिए योग को वेट्स के साथ मिक्स करके करना चाहिए।

धनुष ने बताया योग को बेस्ट एक्सरसाइज

मेरे हिसाब से योग सर्वश्रेष्ठ एक्सरसाइज है। यह मानसिक और शारीरिक रूप से सभी के लिए लाभप्रद होता है। मैंने वर्कआउट के तीन-चार फार्म सीखे थे। बाद में मैंने उनमें सबसे श्रेष्ठ योग को ही पाया। मुझे लगता है कि हर वर्कआउट का आधार योग ही होता है। वहीं से उसकी शुरुआत होती है। अब योग विदेश में भी फैल चुका है। वहां के लोग भी इसकी अहमियत को समझ रहे हैं। वे इसे सीखने में दिलचस्पी ले रहे हैं। यह अच्छी बात है।

मानसिक तनाव को दूर रखता है योग : दिया मिर्जा

मैं मेडिटेशन करती हूं। जब मैं मेडिटेशन कहती हूं तो योग भी करती हूं। योग के अनेक लाभ हैं। यह न सिर्फ आपको स्वस्थ रखता है, बल्कि आपको शांतचित्त बनाए रखने, मानसिक तनावों को दूर करने के साथ ही क्रोध पर काबू करने में मदद करता है। आपकी सोच को सकारात्मक बनाए रखने में मददगार होता है। मैंने स्कूली दिनों से ही योग करना आरंभ कर दिया था। उसके बाद जब वर्क आउट करना शुरू किया तो योग दिनचर्या का हिस्सा बन गया। वैसे भी हमारी जीवनशैली ऐसी है कि स्वस्थ रहना एक चुनौती है। हम दिनभर हम मोबाइल का इस्तेमाल करते हैं। काम का तनाव बना रहता है। इसका प्रभाव हमारे नर्वस सिस्टम पर पड़ता है। ऐसे में सिर्फ मेडिटेशन ही आपके तनाव को दूर करने में कारगर हो सकता है।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Nazneen Ahmed

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस