मुंबई। शबाना आज़मी के पिता कैफी आज़मी की 100वीं वर्षगांठ के अवसर पर शुक्रवार को मुंबई में कार्यक्रम का आयोजन किया गया था जिसमें कई बॉलीवुड सितारों ने शिरकत की। इस दौरान मीडिया से बातचीत करते हुए सेलेब्स ने पाकिस्तान द्वारा भारतीय कंटेंट पर प्रतिबंध लगाने के बारे में प्रतिक्रिया दी। 

भारतीय कंटेंट पर प्रतिबंध लगाने के बारे में बेहतरीन अदाकारा दिव्या दत्ता ने कहा कि आर्ट और कल्चर सीमा में नहीं बंधे हैं और उन्हें सीमा में बांधना नहीं चाहिए। इस तरह की रोक बिल्कुल सही नहीं है। आर्ट और कल्चर तो सांस्कृतिक धरोहर है। इसी मुद्दे पर मशहूर अदाकारा नीना गुप्ता ने कहा कि प्रतिबंध जैसी चीज कुछ नहीं होती।यह सब कुछ राजनीति से प्रेरित है। आम जनता को कोई फर्क नहीं पड़ता जिसे जो देखना है, वह देखता है। 

ईला अरुण ने अपनी बात रखते हुए कहा कि फ्रीडम ऑफ एक्सप्रेशन, फ्रीडम ऑफ स्पीच सबसे अहम है और चाहे वह कोई भी देश हो। वहां का देश हो या यहां का देश हो। अगर फ्रीडम ऑफ एक्सप्रेशन पर प्रतिबंध लगाई जाती है, रोक-टोक की जाती है तो यह बात बिल्कुल गलत है। बता दें कि पाकिस्तान की उच्चतम न्यायालय ने पाकिस्तान टीवी चैनलों पर भारतीय कार्यक्रम दिखाने पर प्रतिबंध लगा दिया है। उसका मानना है कि इससे उनकी संस्कृति को नुकसान पहुंच रहा है। 

यह भी पढ़ें: प्रधानमंत्री से मिलने पहुंची बॉलीवुड की फौज, इस काम के लिए गए थे सब

आपको बता दें कि, शबाना आज़मी के पिता कैफी आज़मी के जन्मदिवस की वर्षगांठ के मौके पर गुरुवार की शाम मुंबई में जुहू इलाके स्थित घर में कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। इस कार्यक्रम में बॉलीवुड के कई दिग्गज सितारे शामिल हुए जिसमें विद्या बालन, फरहान अख्तर, सिद्धार्थ रॉय कपूर, ईला अरुण , नीना गुप्ता, दिव्या दत्ता, नंदिता दास, फरहान अख्तर जैसे कई कलाकारों के नाम शामिल हैं। 

यह भी पढ़ें: Tv पर वापसी करते ही कपिल शर्मा का धमाका, शो की TRP जानकर चौंक जाएंगे आप

Posted By: Rahul soni