नई दिल्ली, जेएनएन। अक्षय कुमार (Akshay Kumar) की फ़िल्म 'मिशन मंगल' (Mission Mangal) 15 अगस्त पर रिलीज़ हो रही है। अक्षय अपनी लीडिंग लेडीज़ के साथ फ़िल्म के प्रमोशन में जुटे हैं। एक प्रेस कांफ्रेंस के दौरान अक्षय के सामने एक दिलचस्प सवाल आया कि पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) और सरकार जो काम रियल लाइफ़ में करते हैं, अक्षय कुमार उसे पर्दे पर दिखाते हैं? इस सवाल का खिलाड़ी कुमार ने भी मज़ेदार जवाब दिया।

प्रेस कांफ्रेंस में अक्षय ने इस सवाल का जवाब देते हुए कहा- ''मोदी सरकार ने स्वच्छ भारत अभियान 2014 में चलाया था, जबकि उनकी फ़िल्म टॉयलेट एक प्रेम कथा 2017 में आयी थी।'' इसी तरह कुछ दिन पहले ही इसरो ने चंद्रयान 2 का सफल प्रक्षेपण किया था। इधर, अक्षय की फ़िल्म 'मिशन मंगल' रिलीज़ हो रही है। इसे महज़ इत्तेफ़ाक़ बताते हुए अक्षय ने कहा- ''चंद्रयान 2 को लांच करने की तैयारी 2015 से चल रही थी, जबकि उनकी फ़िल्म मिशन मंगल दिसम्बर 2018 में शुरू हुई थी तो यह भी सम्भव नहीं है।''

इसके साथ अक्षय ने एक और दिलचस्प फैक्ट का खुलासा किया। उन्होंने कहा कि 1969 में 15 अगस्त को इसरो (ISRO) की स्थापना हुई थी। यह इत्तेफ़ाक़ की बात है कि इसरो के 50 साल पूरे होने पर हमारी फ़िल्म रिलीज़ हो रही है। अक्षय ने कहा कि यह बात उन्हें ख़ुद डेढ़ महीने पहले पता चली थी। 

'मिशन मंगल' को जगन शक्ति ने डायरेक्ट किया है। यह फ़िल्म इसरो द्वारा अंतरिक्ष में भेजे गये पहले भारतीय मंगलयान की तैयारियों और वैज्ञानिकों के संघर्ष की कहानी है। फ़िल्म में अक्षय प्रोजेक्ट लीडर के रोल में दिखेंगे, जबकि विद्या बालन, सोनाक्षी सिन्हा, तापसी पन्नू, कीर्ति कुल्हरी, नित्या मेनन और शरमन जोशी उनकी टीम के सदस्य बने हैं। 

अक्षय की इस साल यह दूसरी रिलीज़ है। इससे पहले 'केसरी' आयी थी, जो इतिहास प्रसिद्ध बैटल ऑफ़ सारागढ़ी पर आधारित थी। 1897 की इस कहानी में अक्षय ने हवलदार ईश्वर सिंह का रोल निभाया था। फ़िल्म बॉक्स ऑफ़िस पर सफल रही। 

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Manoj Vashisth