अनुप्रिया वर्मा, मुंबई। धर्मेंद्र अपने जमाने के मशहूर अभिनेता रहे हैं. वह सुपरस्टार भी रहे और उन्होंने स्टारडम भी देखा. यह उनकी खासियत रही है कि उन्होंने कॉमेडी फिल्मों में भी शानदार अभिनय किया और उन्होंने बाकी किरदारों को भी बखूबी जिया.

हालांकि कम लोगों को ही इस बात की जानकारी होगी कि इसके बावजूद धर्मेंद्र का एक सपना था, जो कभी पूरा नहीं हुआ. उन्होंने बिमल रॉय से लेकर सभी बड़े और सुप्रसिद्ध लेखकों के साथ काम किया है. एक से बढ़ कर एक हिट फिल्में ही नहीं दीं, बल्कि विषय परक फिल्मों का भी हिस्सा रहे. लेकिन फिर भी उनकी एक हसरत थी, जो पूरी नहीं हो पायी. हाल ही में धर्मेंद्र ने अपनी फिल्म यमला पगला दीवाना फिर से के प्रोमोशन के दौरान जागरण डॉट कॉम से बातचीत में कहा कि महबूब खान जैसे निर्देशक के साथ काम करने नहीं कर पाने का उन्हें अफ़सोस है. जी हां, धर्मेंद्र कहते हैं कि उन्हें महबूब खान की सारी फिल्में खूब पसंद थीं और उनकी सारी फिल्में उन्होंने देखी हैं. धर्मेंद्र कहते हैं कि मुझे इस बात का अफसोस ताउम्र रहेगा कि शानदार निर्देशकों में उनके साथ काम करना रह गया.वह कहते हैं कि हम बेहद करीब थे लेकिन फिल्म को लेकर कभी संयोग बन नहीं पाया. महबूब खान की फिल्मों में मदर इंडिया, आन, अंदाज और ऐसी कई फिल्में हैं जो खूब कामयाब रहीं और चर्चित भी रहीं.

धर्मेंद्र कहते हैं कि मैं उनकी इसी बात से प्रभावित था कि उस आदमी ने अनपढ़ होते हुए भी मदर इंडिया जैसी फिल्म बनायी और महसूस किया कि क्या दर्द हो सकता है. उनके पास विजन था. जो कई बार पढ़े-लिखे निर्देशकों के पास भी नहीं होता है. महबूब खान ने एक से बढ़ कर एक फिल्म बनायी. वह उनकी फिल्म अंदाज के बारे में कहते हैं कि लोग जिसे अभी क्रिटिसाइज करते हैं. उस मुद्दे पर वो उस वक्त ही फिल्म बना देते हैं. फिल्म में उन्होंने बात कही है कि हम न होंगे तो हमारी बातें याद आयेंगी. रोमांस का एक अलग रूप दिखाया था. उस वक्त ऐसी फिल्म बना देना. महबूब ने हमारी रूट्स को लेकर फिल्में बनायी थी, जो आज भी चाहिए. उस फिल्म में पति के दिलासे के लिए आशिक को दोस्त के नाम से पुकारती है.

धर्मेंद्र कहते हैं कि वह चाहते थे कि उनके साथ फिल्म करें और आपको जान कर हैरानी होगी कि धर्मेंद्र ने उन्हें ऐसी जगह पर फिल्म के लिए अप्रोच किया कि आप सोच भी नहीं सकते. धर्मेंद्र खिलखिलाते हुए कहते हैं कि हम दोनों शौचालय में एक साथ थे. वहां मैंने कहा कि मेरे साथ फिल्म बनाओ. मेहबूब ने कहा कि हां, बनायेंगे. लेकिन बन नहीं पायी. लेकिन फिर भी हम अच्छे दोस्त रहे. बता दें कि धर्मेंद्र जल्द ही यमला पगला दीवाना फिर से में अपने दोनों बेटों के साथ नज़र आयेंगे. फिल्म 31 अगस्त को रिलीज़ होने जा रही है.

यह भी पढ़ें: जब गर्लफ्रेंड के घर रंगे हाथ पकड़ा गए थे सलमान खान, अलमारी में घुसे,और फिर...

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस