नई दिल्ली,जेएनएन। चिली की फेमस सिंगर मोन लाफ़र्ते लास वेगस में एक अवॉर्ड शो के दौरान टॉप लेस हो गईं। वह आवॉर्ड शो में चलते-चलते रुक गईं और अपनी काली जैकट उतार दी। यह काम वेवजह नहीं किया गया था, इसके पीछे एक मकसद था। मोन ने जब जैकट उतारी, तो उनके सीने पर 'En Chile torturan violan y matan' लिखा था। इसका मतलब है, 'चिली में वे अत्याचार, यौन उत्पीड़न और हत्या करते हैं।'

मोना लाफ़र्ते ने अपनी टॉप लेस तस्वीर को अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर शेयर किया। फोटो शेयर करते हुए उन्होंने लिखा, 'मेरा शरीर आज़ाद है, एक स्वतंत्र होमलैंड के लिए'। वह चिली में चल रहे पुलिस अत्याचार का विरोध कर रहीं थीं।

द गार्जियन में छपी रिपोर्ट के मुताबिक, चिली में पिछले एक महीने से राजनीतिक बहिष्कार और आर्थिक असमानता को लेकर प्रदर्शन हो रहे हैं। इस प्रदर्शन को दौरान करीब 20 लोगों की मौत हो चुकी है। द गार्जियन के मुताबिक, कम से कम 5 लोगों की मौत प्रशासन के हाथों हुई है। अत्याचार, यौन उत्पीड़न और अंधाधुंध हिंसा का आरोप भी लगा है।

मोन लाफ़र्ते इसी हिंसा का विरोध कर रही थीं। वह उस दौरान लैटिन ग्रैमी अवॉर्ड में मौजूद थीं। उन्होंने बेस्ट अल्टर्नेटिव एल्बम अवॉर्ड भी मिला। मोन ने इस अवॉर्ड को चिली के लोगों को समर्पित किया। बात सिर्फ मोन की नहीं है। इसके अलावा भी कई कलाकार, खिलाड़ी और महिलाएं सरकार विरोधी प्रदर्शन में लोगों का साथ दे रहे हैं। इसकी शुरुआत मेट्रो के किराए में की गई बढ़ोतरी से शुरू हुई थी।  

इन प्रदर्शन में प्रदर्शनकारियों की अपनी मांग है। उनकी मांग है कि तानाशाह ऑगस्ट पिनोचेट ने जिस व्यवस्था (राजनीतिक और आर्थिक) को स्थापित किया है, उसे बदला जाए। द गार्जियन में छपी रिपोर्ट के मुताबिक, हाल ही में प्रदर्शनकारियों को महत्वपूर्ण जीत भी हासिल हुई, जब कांग्रेस ने संविधान को बदलने के लिए अगले साल एक जनमत संग्रह आयोजित करने पर सहमति व्यक्त की। हालांकि, अभी यह स्पष्ट नहीं हुआ है कि प्रदर्शन बंद हो जाएंगे।

(Photo Credit- Mon Laferte Instagram)

Posted By: Rajat Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप