मुंबई। मधुर भंडारकर की अगली फिल्म 'कैलेंडर गर्ल्स' मुश्किल में फंस गई है। दरअसल सेंसर बोर्ड और इस फिल्म के बीच घमासान शुरू हो गया है। बोर्ड को फिल्म में बोली गई भाषा पर आपत्ति थी लेकिन बिना किसी कट के फिल्म को 'ए' सर्टिफिकेट दे दिया गया।

सेंसर बोर्ड को 'फैंटम' का पोस्टर देख आ गया था गुस्सा!

मधुर को लगा कि जब फिल्म को सिर्फ अडल्ट लोगों के लिए सर्टिफिकेट दिया गया है तो फिल्म में शब्दों को म्यूट करने की क्या जरूरत है। सूत्र ने कहा, 'सेंसर बोर्ड, जिसने पहले ही आपत्तिजनक शब्दों पर पाबंदी लगा रखी है, उसे फिल्म में लड़कियों के कुछ शब्द पसंद नहीं आए। कुछ ऐसे शब्द हैं जो सेंसर बोर्ड को ठीक नहीं लगे और मधुर को ये बात बता दी गई।'

मधुर को ये बात बिलकुल पसंद नहीं आई और अब वो बोर्ड की रिवाइजिंग कमेटी के पास जाने का मन बना रहे हैं।

सूत्र ने कहा, 'हां, मधुर इस बारे में गंभीरता से सोच रहे हैं। वो फिल्म के कंटेंट को देखते हुए सेंसर बोर्ड की तरफ से इसे ए सर्टिफिकेट देने के फैसले का सम्मान करते हैं। लेकिन उन्हें लगता है कि मेच्योर एडल्ट दर्शकों के लिए भाषा की कोई समस्या नहीं होनी चाहिए।'

मधुर अगले हफ्ते रिवाइजिंग कमेटी से मुलाकात कर सकते हैं।

फिल्ममेकर मणि रत्नम को लंदन में मिला 'आइकन अवार्ड'

Posted By: Monika Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस