नई दिल्ली, जेएनएन। जरूरी नहीं कि जैसा किरदार एक्टर पर्दे पर निभा रहा हो असल जिंदगी में वह वैसा ही हो। इस बात को पूरी तरह से साबित किया है बॉलीवुड एक्टर सोनू सूद ने। आज जब पूरी दुनिया कोरोना वायरस महामारी जैसे संकट से गुजर रहा है तो ऐसे में सोनू सूद मजबूरों के लिए मसीहा बनकर सामने आए हैं। सोनू सूद लगातार प्रवासी मजदूरों को उनके घर तक पहुंचाने रहे हैं। अबतक वह हजारों प्रवारी मजदूरों के उनके घर पहुंचा चुके हैं। जो भी सोनू सूद से मदद के लिए मैसेज कर रहा है या ट्वीट कर रहा है सोनू उसका जवाब दे रहे हैं और उनकी हर संभव मदद कर रहे हैं। लोगों के लिए मसीहा बने सोनू सूद के बारे में आज हम आपको उनकी पर्सनल और प्रोफेशनल लाइफ के बारे में कुछ खास बातें बताने जा रहे हैं। तो चलिए जानते हैं उनके बारे में...

 

 

 

 

 

 

 

 

View this post on Instagram

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

🌏 🕯#9baje9minute

A post shared by Sonu Sood (@sonu_sood) on

एक्टर सोनू सूद ने बॉलीवुड के साथ साउथ की फिल्मों में भी काम किया है। वह पंजाब के मोगा के रहने वाले हैं। मोगा में उनके पापा की कपड़े की दुकान थी जिसका नाम बॉम्बे क्लॉथ हाउस था। सोनू को बचपन से ही एक्टर बनने की चाह थी। वहीं सोनू सूद की मां प्रोफेसर थीं। वह चाहती थीं कि सोनू सूद बड़े होकर कुछ अच्छा काम करे और बड़ा आदमी बने। ऐसे में उन्होंने इंजीनियरिंग करने के लिए सोनू को नागपुर भेज दिया। इसके बाद सोनू Electronics engineer भी बन गए लेकिन हीरो बनने का कीड़ा तो उनको काट चुका था।

 

 

 

 

 

 

 

 

View this post on Instagram

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

Quarantine Gym Session💪#stayindoors #staysafe #stayfit #fitnessjourney #sonusoodfitworld

A post shared by Sonu Sood (@sonu_sood) on

सोनू ने अपनी मां से कहा से मुझे एक साल दे दीजिए अगर मैं कुछ नहीं कर सकता तो मैं वापस आकर पापा की कपड़े की दुकान संभाल लूंगा। ​बस​ फिर क्या था सोनू मुंबई आ गए और काम को लेकर स्ट्रगल शुरू। स्ट्रगल के दिनों में सोनू एक फ्लैट में 5-6 लोगों के साथ रहने लगे। कुछ नहीं हो रहा था, कोई काम नहीं मिल रहा था। हर कोई रिजेक्ट किए जा रहा था। 

इसके बाद सोनू ने अपनी तस्वीरें कहीं भेजी। पता चला कि वहां तो हीरोइन के लिए लड़की ढूंढी जा रही है और इन्होंने अपनी फोटो भेज दी। लेकिन यहीं से सोनू की किस्मत ने अपना रंग दिखाया। सोनू को कॉल आया कि साउथ इंडियन फिल्म के लिए उन्हें सेलेक्ट कर लिया गया है तो ऑडिशन के लिए आ जाइए। फिर क्या था सोनू पहंच गए।

 

 

 

 

 

 

 

 

View this post on Instagram

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

Someone said today is Mother’s Day. I was celebrating it everyday unknowingly. How can there be one day that you dedicate to some one you call MAA? She’s the one who celebrates your presence in her life everyday. I miss u Every second of my life maa. I miss dropping you to your college on my scooter. I miss attending your lectures as a student. I miss receiving letters from u. Life is not the same maa. A lot more goals to meet but the drive that motivated me was always you. Stay happy wherever u are . I am sure dad must be taking good care of you. I miss u both a lot 💔 Take care maa till I see u again. Happy Mother’s Day.

A post shared by Sonu Sood (@sonu_sood) on

यहां पर सोनू के साथ काफी अजीबो-गरीब ऑडिशन हुआ। जब सोनू वहां ऑडिशन के लिए पहुचे तो डायरेक्टर प्रोड्यूसर ने उनसे शर्ट उतारने के लिए कहा। पहले सोनू को थोड़ा अजीब लगा। फिर उन्होंने शर्ट उतार दी। इसके बाद सोनू ने शर्ट उतार दी। सबने उनकी बॉडी की खूब तारीफ की। बॉडी देखी गई और सोनू सेलेक्ट हो गए साउथ इंडियन फिल्म में रोल मिल गया।

सोनू ने तमिल फिल्म की उसके बाद तेलुगू फिल्म में काम के बाद बॉलीवुड फिल्मों में काम शुरू किया। हिंदी सिनेमा में उनकी पहली फिल्म 'शहीद-ए-आजम भगत सिंह' थी। इस फिल्म में उन्होंने भगत सिंह का रोल निभाया। सोनू सूद को सही मायने में पहचान मिली ​सलमान खान की फिल्म 'दबंग' के कैरेक्टर छेदी सिंह से। 

Posted By: Priti Kushwaha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस