नई दिल्ली, जेएनएन। कोरोना ने लोगों पर कड़ा प्रहार किया है ,पूरा देश थम गया है और हर दिन मरने वालों की संख्या बढ़ जाती है। हर कोई परेशानी से गुजर रहा है और कई ऐसे प्रवासी श्रमिक हैं जो बड़ी कठिनाइयों से गुजर रहे हैं और अपने अस्तित्व के साथ जूझ रहे हैं। प्रत्येक दिन प्रवासी मज़दूरों अपने मूल स्थानों पर पहुँचने के लिए रास्ते में चलते हुए और कई दुर्घटना की सुर्खियाँ होती हैं और यह सचमुच हमारे दिल को बहुत ही तकलीफ देनेवाला है।

हाल ही में एक्टर और कॉमेडियन मनीष पॉल ने 40 ऐसे श्रमिको की मदत की जो कि उनके घर काम करने वाले एक स्टाफ के संपर्क में थे। मनीष के घर के स्टाफ को भी अपने गाँव जाना था तो उन्होंने मनीष पॉल से कहा कि वे गांव जाना चाहते है। जब मनीष को ये जानकारी मिली की उस स्टाफ के संपर्क में और भी लोग है तो मनीष ने तुरंत ही इन सबको घर पहुंचाने के लिए इंतजाम किया।

इसके बाद मनीष ने इन 40 लोगों को घर पहुँचाने के लिए अभिनेता सोनू सूद की मदद ली जो कि पहले से कई हजार लोगों को उनके घर सुरक्षित पहुंचा चुके हैं। मनीष ने जब इन सभी श्रमिकों को रवाना किया तो उन सभी को राशन सामग्री दी। साथ ही वहाँ पहुंच कर कुछ तकलीफ ना हो इसलिए कूछ पैसे भी उनको दिए।  

आपको बता दें कि मनीष इससे पहले भी पीएम केअर फंड में 20 लाख की धन राशि डोनेट कर चुके हैं, इतना ही नहीं अपने स्टाफ को लॉकडाउन से पहले अडवांस सैलरी देकर छुट्टी दे दी थी। हाल ही में मनीष की 'व्हाट इफ' जो कि एक शार्ट फ़िल्म है उसे यूट्यूब पर रिलीज किया है। 

इस फिल्म की कहानी लॉकडाउन के इस मुश्किल वक्त के इर्द-गिर्द घूमती है। इस फिल्म को लेकर मनीष पॉल का कहना है कि फिल्म से की गई कमाई का इस्तेमाल चैरिटी के लिए किया जाएगा। ये बात उन्होंने आईएएनएस को दिए इंटरव्यू में कही थी।  

Posted By: Priti Kushwaha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस