PreviousNext

बर्थडे: अल्का याग्निक से जुड़ी 5 स्पेशल बातें, उनके इस गीत के लिए किया 42 पार्टियों ने विरोध

Publish Date:Mon, 20 Mar 2017 09:59 AM (IST) | Updated Date:Mon, 20 Mar 2017 07:15 PM (IST)
बर्थडे: अल्का याग्निक से जुड़ी 5 स्पेशल बातें, उनके इस गीत के लिए किया 42 पार्टियों ने विरोधबर्थडे: अल्का याग्निक से जुड़ी 5 स्पेशल बातें, उनके इस गीत के लिए किया 42 पार्टियों ने विरोध
इसी गाने (चोली के पीछे) के लिए इंडस्ट्री में पहला और इकलौता ऐसा मौक़ा आया है जब एक ही गीत के लिए बेस्ट सिंगर का अवार्ड दो सिंगर्स को दिया गया- इला अरुण और अल्का याग्निक।

मुंबई। 20 मार्च को बॉलीवुड की पॉपुलर सिंगर अल्का याग्निक का बर्थडे होता है। आज वो 51 वें साल की हो रही हैं। हिंदी सिनेमा में एक दौर ऐसा भी रहा है जब फीमेल सिंगर का मतलब सिर्फ और सिर्फ अल्का याग्निक ही रही हैं। यह दौर साल 1990 से तक़रीबन 2000 तक माना जा सकता है। कुमार सानू, उदित नारायण से लेकर सोनू निगम तक अल्का ने अपने दौर के बेस्ट मेल सिंगर्स के साथ हज़ारों गीत गाये हैं।

छह साल की नन्हीं उम्र में ही आकाशवाणी कोलकाता से अपने करियर की शुरुआत कर शोहरत की बुलंदियों तक पहुंचने वाली बॉलीवुड की सुप्रसिद्ध प्ले-बैक सिंगर अल्का याज्ञनिक अपने गानों से आज भी श्रोताओं के दिलों पर राज कर रही हैं। आइये अल्का याग्निक के बर्थडे पर जानते हैं उनकी लाइफ से जुड़ी कुछ खास बातें।

1. अल्का दस साल की उम्र में ही अपनी मां के साथ करियर को आगे बढ़ाने के लिए मुंबई आ गईं थीं। एक मुलाक़ात में राज कपूर को अलका की आवाज बहुत पसंद आई और उन्होंने अल्का को लक्ष्मीकांत प्यारेलाल से मिलवाया। उसके बाद, अल्का ने प्लेबैक सिंगर के रूप में अपने करियर की शुरुआत 1980 में आई फ़िल्म 'पायल की झंकार' से की। उस समय उनकी उम्र महज 14 साल की थी।

इसे भी पढ़ें: सुनील ग्रोवर से लड़ाई पर कपिल शर्मा की सफाई, फैंस ने उन्हें लताड़ा

2. पहली फ़िल्म के लगभग आठ साल बाद अल्का याग्निक को 'तेज़ाब' (1988) के माधुरी दीक्षित पर फिल्माए उनके गीत 'एक,दो, तीन' से एक बड़ी पहचान मिली।

3. तेज़ाब के बाद तो अल्का याग्निक के जैसे अच्छे दिन शुरू हो गए। उसके बाद उन्होंने कभी पलटकर नहीं देखा। अपने 30 साल के करियर में अल्का ने अब तक 700 फ़िल्मों में 20 हजार से ज्यादा गाने गाये हैं।

4. पर्सनल लाइफ की बात करें तो अल्का याग्निक ने 1989 में नीरज कपूर से शादी कर ली थी। फिलहाल उनके कोई बच्चे नहीं हैं। अल्का या‌ग्निक कुछ समय से गाना नहीं गा रही हैं। इसकी वजह आज के संगीत में बदलाव को लेकर उनका उदासीन रवैया है।

इसे भी पढ़ें: सलमान ख़ान पृथ्वी के सबसे बड़े सुपरस्टार, उनके नाम से बिक रही हैं टिकटें

5. दो बार नेशनल अवार्ड जीत चुकी अलका याग्निक, दर्जनों भाषाओं में गीत गाने की क्षमता रखती हैं। उन्होंने हिंदी के अलावा तमाम भारतीय भाषाओं में कई हिट दिए हैं। 'खलनायक' (1993) के उनके गाये गीत 'चोली के पीछे क्या है' पर बहुत ही बवाल मचा था। तब लगभग 42 पॉलिटिकल पार्टियों ने इस गीत के खिलाफ आंदोलन चला कर इसका विरोध किया था।

बता दें कि, इसी गाने (चोली के पीछे) के लिए इंडस्ट्री में पहला और इकलौता ऐसा मौक़ा आया है जब एक ही गीत के लिए बेस्ट सिंगर का अवार्ड दो सिंगर्स को दिया गया- इला अरुण और अल्का याग्निक।

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:Birthday Special Alka Yagnik interesting facts(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

जैकलीन ने लांच की सिग्नेचर कॉस्मेटिक लाइन, नाम है ऐसा कि...ईद पर सलमान खान के साथ भोजपुरी का ये दबंग भी परदे पर