अनुप्रिया वर्मा, मुंबई। आप भी चौंक गये होंगे न कि ऐसा भला कैसे हो सकता है कि सलीम खान ने खुद अपने बेटे सलमान खान से अधिक फीस की डिमांड करने के लिए किसी लेखक को राय दे सकते हैं। लेकिन, हकीकत यही है कि सलीम ख़ान ने बाहुबली के लेखक विजेंद्र प्रसाद को यह राय दे डाली थी। यह राज खुद विजेंद्र प्रसाद ने खोला है।

दरअसल, विजेंद्र प्रसाद सलीम ख़ान को अपना द्रोणाचार्य मानते हैं। विजेंद्र बताते हैं कि उन्होंने लेखन की शुरुआत ही सलीम ख़ान की वजह से की। सलीम-जावेद की लेखनी के वे हमेशा फैन रहे हैं। शोले उन्होंने कितनी बार देखी है, उन्हें खुद याद नहीं है। ऐसे में जब वह सलमान ख़ान की बजरंगी भाईजान का लेखन करते हुए पहली बार सलीम ख़ान से मिले, तो वह अपने इमोशन को कंट्रोल नहीं कर पाये। उन्होंने जाकर सलीम खान के पैर छू लिये थे। सलीम ख़ान ने उस वक्त विजेंद्र को सलाह दी थी कि बजरंगी भाईजान की कहानी लेखन के लिए वह सलमान से अपनी फीस से एक रुपये अधिक की डिमांड करें।

यह भी पढ़ें: जब पापा और बॉयफ्रेंड के साथ National Award लेने पहुंची सोनम कपूर, देखें तस्वीरें

सलीम ख़ान ने कहा कि वे और जावेद हमेशा ऐसा करते थे। वह स्टार से हमेशा एक रुपये फीस अधिक रखते थे। ताकि लेखक की तवज्जो स्टार को भी समझ आये। सलीम ने उन्हें यह भी बताया कि उन्होंने अमिताभ की कई फिल्मों के लिए एक रुपये अधिक उनसे फीस ली है। हालांकि विजेंद्र मानते हैं कि सलीम ख़ान से मिल लेना ही उनके लिए किसी भी बड़ी फीस से अधिक है। विजेंद्र ने मजाकिया अंदाज़ में यह भी बताया कि बाहुबली में उन्होंने अपने बेटे और डायरेक्टर राजामौली से अधिक फीस की डिमांड नहीं की थी।

यह भी पढ़ें: बाहुबली के लेखक ने कहा रितिक निभा सकते हैं बाहुबली का किरदार

बजरंगी भाईजान देख कर जब सलीम ख़ान ने उनकी तारीफ की थी तो विजेंद्र बेहद खुश हो गये थे और उन्हें अपनी फ़िल्म से काफी संतुष्टि मिली थी। हाल ही में रिलीज हुई बाहुबली -द कनक्लूजन का लेखन भी उन्होंने किया है और वह इस बात से बेहद खुश हैं कि दर्शकों का प्यार उन्हें मिल रहा है।

Posted By: Hirendra J

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस