नई दिल्ली, जेएनएन। Anurag Kashyap On Nepotism: सुशांत सिंह राजपूत के निधन के बाद शुरू हुई नेपोटिज़्म और इनसाइडर बनाम आउटसाइडर की बहस काफी आगे बढ़ गई है। कंगना रनोट ने इस बहस में अपना पद्मश्री वापस करने की बात तक कह डाली है। अब इस मुद्दे पर फ़िल्ममेकर अनुराग कश्यप ने भी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने बहस करने वाले सेलेब्स पर तंज कसा। अनुराग ने कहा है कि पहले ये सेलेब्स खु़द को देखें कि वह सेटे पर मौजूद क्रू मेंबर्स से कैसा व्यवहार करते हैं। 

अनुराग कश्यप ने एक के बाद एक कई ट्वीट किए। उन्होंने लिखा, 'मित्रों, गजब की डिबेट चल रही है।फ़िल्मों में सिर्फ़ एक्टर्स नहीं होते। एक फ़िल्म के सेट पर और कम से कम डेढ़ सौ लोग काम करते हैं।अंदर वाले या बाहर वाले जिस दिन सेट पे काम करने वाले असिस्टेंट, वर्कर्स, स्पॉटब्वॉय और बाकी सब इंसानों को इज्जत देना सीख जाएंगे, तब उनसे बात की जा सकती है।'

अनुराग ने दूसरे ट्वीट में लिखा, 'चाहे वो बात नेपोटिज़्म के बारे में हो या फेवरेटिज़्म के बारे में हो। पहले इन सेट पर काम करने वालों से एक बार पूछ लो कि कौन-सा एक्टर या डायरेक्टर या जो भी हो, वो सबसे ज़्यादा बदतमीज़ है या किस एक्टर के नाम से वो उस फ़िल्म में काम करने से मना कर देते हैं। फिर जा कर उन एक्टर के सेट्स पे , जहां जब कमान, तथाकथित एक्टर के हाथ में आ जाती है। उस फ़िल्म के सपोर्टिंग एक्टर्स के पुराने इंटरव्यू पढ़ लो कि वो क्यों फ़िल्म छोड़ के गए थे?  तुम जैसा दूसरों के साथ रहोगे वैसा ही वापस भी मिलेगा।'

अनुराग के लिखा है कि फ़िल्म दुनिया और इस दुनिया में कोई अंतर नहीं है। बस फ़िल्म दुनिया दिखती और छपती ज़्यादा है। उन्होंने आगे लिखा- इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ना चाहिए कोई एक आपकी सरहाना नही कीं। वहीं, एक आदमी की सरहाना भी काफी काम करने के लिए।' 

गौरतलब है कि अनुराग कश्यप का यह ट्वीट कंगना रनोट के उस बयान के बाद आया है, जिसमें उन्होंने मूवी माफ़िया के वजूद की बात की है। इसके अलावा उन्होंने नाम लेकर कई फ़िल्ममेकर्स और एक्टर्स पर निशाना साधा है। 

इसे भी पढ़िएः कंगना रनोट के सपोर्ट में उतरे फैंस, बोले- 'केवल इनमें सच बोलने की हिम्मत है'

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप