अनुप्रिया वर्मा, मुंबई। धर्मेंद्र आज अपना 81 वां जन्म दिन मना रहे हैं। धर्मेंद्र उन खुशमिजाज शख्सियत में से एक हैं, जो दोस्ती और रिश्तों में यकीन करते हैं। निर्देशक अनिल शर्मा उनके ऐसी ही करीबी मित्रों में एक हैं।

धर्मेंद्र को उनके जन्म दिन पर बधाई देते हुए वो बताते हैं कि धरम जी का दिल अब भी बिल्कुल बच्चे की तरह है। वो सेट पर सभी से बच्चों की तरह ही बर्ताव करते हैं। बकौल अनिल मुझे अच्छी तरह याद है, जब मैं उनसे पहली बात आरके स्टूडियो में मिलने गया था। वहां हेमाजी भी थीं, वैनिटी में थे दोनों। जिस वक़्त वह सेट पर आये, पूरे सेट के लोग उनकी एक झलक पाने के लिए उनकी वैनिटी के सामने आज भी खड़े हो जाते हैं। अनिल बताते हैं कि जब मैं उनके साथ फिल्म 'अपने' की स्क्रिप्ट लेकर गया था तो वह बार-बार उठकर वाशरूम में चले जा रहे थे। तो मुझे लगा कि उन्हें स्क्रिप्ट पसंद नहीं आयी है। लेकिन बाद में उन्होंने बताया कि स्क्रिप्ट पढ़कर वह रोने लगे थे, इसलिए वह वाशरूम में चले जा रहे थे। वह दिल से अब बच्चे की तरह ही सॉफ्ट हैं।

इसे भी पढ़ें- आपको पता है, किस फ़िल्म में धर्मेंद्र बन चुके हैं देवदास?

अनिल बताते हैं कि उनका नाम जब एक मैगजीन में सबसे हैंडसम स्टार के रूप में नाम शामिल हुआ तो वह काफी एक्साइटेड हो गए थे। धर्मेंद्र कहते हैं कि कैमरा उनकी माशूका है और वो उन्हें बार-बार प्यार करने के लिए बुलाती है। मसलन उन्हें अपने अभिनय से बेइंतहा प्यार है।

इसे भी पढ़ें- शर्मिला के संग ने धर्मेंद्र को बनाया क्लासिक एक्टर

अनिल बताते हैं कि वह स्पांटेनियस एक्टर हैं। धरम जी उन लोगों में से हैं, जो सिनेमा के दीवाने हुआ करते थे। वो बताते हैं कि धर्म जी अम्बाला में फ्रंटियर मेल वालों को बोला करते थे कि तुम मुझे मुंबई भेज दो। धर्म जी शुरू से ही मेहनत करने में माहिर रहे हैं। भले ही वह सुपरस्टार हों लेकिन दिल से आज भी किसान ही हैं।

By Manoj Vashisth