नई दिल्ली, जेएनएन। अनिल कपूर की बेटी सोनम कपूर के फैशन सेंस और स्टाइल स्टेटमेंट से तो सभी लोग वाकिफ हैं। सोनम अक्सर अपनी बेहतरीन पोशाकों से फैंस का दिल जीतती रहती हैं। कुछ मौकों पर उन्हें ट्रोल्स का सामना भी करना पड़ता है, मगर अब उनकी बहन रिया कपूर भी सोशल मीडिया के उन सेलेब्रिटीज में शामिल होती जा रही हैं, जो अपने अंदाजो-अदा से फैंस को दीवाना बना रही हैं। आलम यह है कि रिया के फैशन को देखकर ट्रोल्स भी ला-जवाब हो जाते हैं कि कहें तो क्या कहें।

रिया ने हाल ही में वोग के लिए एक फोटोशूट करवाया है, जिसकी तस्वीरें उन्होंने इंस्टाग्राम पर साझा की हैं। इन तस्वीरों में रिया ने कुछ ऐसी ड्रेस पहनी है, जिसके आंखों के सामने आने पर नजर ठहर ही जाती है। दरअसल, यह एक क्लीवेज गाउन है, जिसे पहनकर रिया ने अलग-अलग पोज दिये हैं। हल्के आसमानी रंग के गाउन में रिया बेहद खूबसूरत दिख रहे हैं। इन तस्वीरों पर कई लोगों ने कमेंट किये हैं। इंडस्ट्री से उनके दोस्तों और जानने वालों ने तारीफ की है। वहीं, फॉलोअर्स भी रिया को इस अंदाज में देखकर हैरान हैं, जिसका अंदाजा उनके कमेंट्स से चलता है।

View this post on Instagram

A post shared by Rhea Kapoor (@rheakapoor)

एक यूजर ने इसे साल की सबसे अच्छी तस्वीर बताया है। वहीं एक अन्य यूजर ने लिखा- आप फोटो से ज्यादा खूबसूरत दिखती हो। कई लोगों ने किया की हॉटनेस की तारीफ की है। एक यूजर ने तो किलर बताते हुए कह दिया- अल्फाज ही नहीं हैं, क्या लिखूं। तमाम यूजर्स ने कमेंट्स सेक्शन में हार्ट और फायर इमोटिकॉन्स की झड़ी लगा दी है। रिया ने इसी साल लॉन्ग टाइम बॉयफ्रेंड करण बलूनी से शादी की थी। रिया बॉलीवुड फिल्मों को प्रोड्यूस करती हैं और एक स्ट्रॉन्ग वुमन के तौर पर जानी जाती हैं। 2010 में उन्होंने आयशा के साथ डेब्यू किया था। उनकी पिछली फ़िल्म वीरे दी वेडिंग है, जो 2018 में आयी थी। करीना कपूर, सोनम कपूर और स्वरा भास्कर अभिनीत फ़िल्म बॉक्स ऑफ़िस पर सफल रही थी।

View this post on Instagram

A post shared by Rhea Kapoor (@rheakapoor)

उन्होंने शादी के बाद करवा चौथ ना मनाने का एलान करके चौंका दिया था। रिया ने सोशल मीडिया पोस्ट के जरिए अपना फैसला बताते हुए लिखा था- सम्मानपूर्वक कहना चाहती हूं कि कृपया करवा चौथ तोहफ़ों या कोलेब्स (कोलेबोरेशन) के लिए मुझसे सम्पर्क मत कीजिए। मैं और करण (बलूनी) इसमें यक़ीन नहीं करते। जो जोड़े इसे मनाते हैं, हम उनका पूरा सम्मान करते हैं और वो लोग इसे एंजॉय भी करते हैं। लेकिन, यह हमारे लिए नहीं है। इसलिए, जिस चीज़ में मैं यक़ीन नहीं रखती, उसे प्रमोट नहीं करना चाहूंगी। जिस बात के लिए यह मनाया जाता है, मैं उसमें भी यक़ीन नहीं करती।

Edited By: Manoj Vashisth