रुपेशकुमार गुप्ता, मुंबईl फिल्म अभिनेता जॉन अब्राहम ने बताया है कि उनकी फिल्म परमाणु द स्टोरी ऑफ पोखरण में अटल बिहारी वाजपेयी की प्रधानमंत्री का पद छोड़ते समय पी वी नरसिम्हा को कही गई बात को भी हिस्सा बनाया गया हैl

गौरतलब है कि जब 1996 में प्रधानमंत्री रहे अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार मात्र 13 दिन के बाद गिर गई थीl उस समय नये प्रधानमंत्री बन रहे पी वी नरसिम्हा राव को अटल जी ने कहा था कि ‘मैं तो नहीं कर पाया लेकिन आप अवश्य उसे करना’ बिना पोखरण में परमाणु परिक्षण की तैयारी का नाम लिए उन्होंने इस बात को कहा था। हालांकि सरकार ने इस पर कुछ महीनों तक कोई निर्णय नहीं लियाl जिसके बाद पोखरण में चल रही तैयारियों पर भी प्रश्नचिन्ह लगने लगे थे लेकिन कुछ समय बाद फिर अटल बिहारी वाजपेयी के नेतृत्व में दोबारा 1998 में सरकार बनी और उन्होंने एपीजे अब्दुल कलाम और कई अन्य वैज्ञानिकों को परमाणु बम का टेस्ट करने की अनुमति दी l विशेष बात यह है कि इसे पूर्णरूपेण गोपनीय रखा गया था और एक महीने चले इस टेस्ट में कुल 5 परमाणु बम का विस्फोट कर टेस्ट किये थेl जागरण डॉट कॉम से बातचीत में जॉन अब्राहम ने यह भी कहा कि इस पूरे प्रकरण को फिल्म में दर्शाया गया है और फिल्म के निर्देशक अभिषेक शर्मा ने इसे देशवासियों को समझे ऐसी सरल भाषा में इसे बताने का प्रयत्न किया हैl इस फिल्म में जॉन अब्राहम के अलावा डायना पेंटी की भी अहम भूमिका हैl इस फिल्म को लेकर सभी बहुत उत्साहित है l जॉन अब्राहम ने यह भी कहा कि फिल्म में कोई विवाद न हों इसलिए कई राजनीतिज्ञों और वैज्ञानिकों के नाम बदल दिए गए हैंl फिल्म 25 मई को रिलीज़ हो रही हैl

इस मौके पर जॉन अब्राहम ने यह भी कहा कि इस फिल्म के लिए सभी ने अपनी फ़ीस की कटौती की हैl इसके पीछे कारण देते हुए जॉन अब्राहम ने कहा कि फिल्म की फीस को सभी ने इसलिए कम लिया क्योंकि यह फिल्म हमारे देश के वैज्ञानिकों और BARC और DRDO जैसी सफल संस्थाओं की मेहनत को दर्शा रही हैl इस मौके पर जॉन अब्राहम ने यह भी कहा कि फिल्म के दृश्यों को असली बनाने के लिए ऐसे सेट बनवाये गए और असल लोकेशन पर फिल्म को शूट किया गयाl

यह भी पढ़ें: जॉन अब्राहम की फिल्म परमाणु भारत रत्न एपीजे अब्दुल कलाम को समर्पित

Posted By: Manoj Khadilkar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस