मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

अनुप्रिया वर्मा, मुंबई. अमिताभ बच्चन की फिल्म बदला ने अच्छी लोकप्रियता हासिल की है. इस फिल्म में अमिताभ एक वकील के किरदार में हैं. अमिताभ का किरदार बादल गुप्ता काफी पसंद किया गया है. दर्शकों से फिल्म को अच्छी कामयाबी मिल रही है.

ऐसे में अमिताभ बच्चन ने फेसबुक पर अपने फैन्स के साथ बातचीत की और उनके कई सवालों के जवाब दिए. अमिताभ से एक फैन ने जानना चाहा कि जब वह वकील का किरदार निभा रहे थे तो क्या उन्होंने किसी वकील से मुलाकात की थी. अमिताभ ने कहा कि नहीं उन्होंने मुलाकात नहीं की थी और उन्हें इस बात की ख़ुशी है कि उन्हें कभी कोर्ट कचहरी जाने की नौबत नहीं आई है. लेकिन हां, एक बार उन्हें लंदन में बोफ़ोर्स केस को लेकर कोर्ट जाना पड़ा था. वहां मामला आया था, तब अमिताभ को वहां जाना पड़ा था. भारत में उन्हें कभी ऐसी नौबत नहीं आयी है. लेकिन वह कहते हैं कि जब भी वह कभी किसी वकील से मिलते हैं तो उन्हें बातचीत करते सुना था. ऐसे में उन्हें ध्यान से देखने की कोशिश करते हैं अमिताभ बच्चन.

अमिताभ ने यह भी बताया कि इस फिल्म की पूरी कहानी एक टेबल के इर्द-गिर्द घूम रही है. ऐसे में अमिताभ को लगा कि अगर वह पूरी फिल्म में एक ही टेबल के पास कुर्सी पर बैठे रहेंगे तो काफी बोरियत हो जाएगी. फिर सुजोय ने उनसे कहा कि ठीक है वह थोड़ा घूम फिर लें. सो, अमिताभ कुछ दृश्य में घूमते-फिरते दिखाई देते हैं. अमिताभ बच्चन ने इसी लाइव के दौरान बताया कि शाहरुख़ खान जो कि इस फिल्म के निर्माता हैं, उन्होंने ही इस फिल्म की पूरी मार्केटिंग स्ट्रेटजी तैयार की है. वह इसमें माहिर हैं. इसी क्रम में उन्होंने बताया कि इस फिल्म में उन्होंने अपने पिता हरिवंश राय बच्चन की कविता गुड़िया का प्रयोग क्यों किया.

अमिताभ ने बताया कि उन्हें यह कांसेप्ट दिमाग में आया कि किस तरह से वह अपने पिताजी की कविता इससे जोड़ें. अमिताभ ने बताया कि उनके पिता जब रूस गये थे, वहां एक गुड़िया ली थी उन्होंने. उस गुड़िया के अन्दर गुड़िया उसके अंदर गुड़िया थी. तो उसे देखने के बाद उन्होंने पूरी कविता लिखी थी. उन्हें लगा कि इस कहानी में यह फिट बैठेगी.

अमिताभ का कहना है कि उनके दिमाग में अब भी किरदारों को लेकर कोई खास विश लिस्ट नहीं है. वह हमेशा किरदार निभाने की कोशिशों में जुटे हैं. अमिताभ ने अपने फैन्स को यह भी बताया कि फिल्म में महाभारत के अंशों का जिक्र क्यों है, चूंकि फिल्म की कहानी पर यह बिल्कुल फिट बैठती है. अमिताभ ने इस फिल्म के लिए एक रैप भी लिया है. वह कहते हैं कि गायन को लेकर वह माहिर नहीं हैं. इस फिल्म में भी रैप करना कठिन था. लेकिन उन्होंने रणवीर सिंह को रैप करते हुए देखा और कई बार सुना और फिर उनकी तरह करने की कोशिश की.

Posted By: Rahul soni

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप