मुंबई। कश्मीर की एक लव स्टोरी पिछले छह महीने से रिलीज़ होने की राह देख रही है। इस फिल्म को सेंसर ने बैन कर रखा है। मामला प्यार से जुड़ा है और ख़ास कर माँ के प्यार का तो आलिया भट्ट चुप नहीं रह सकीं हैं। उन्होंने सेंसर से फिल्म से बैन हटाने की मांग की है।

ऑस्कर्स नॉमिनेटेड डायरेक्टर अश्विन कुमार की इस फिल्म का नाम है No Fathers In Kashmir, जिसको रिलीज़ किये जाने को लेकर राजनीतिक दल के नेताओं से लेकर फिल्मी हस्तियों ने भी अपनी आवाज़ उठाई है। फिल्म में आलिया भट्ट की माँ सोनी राजदान ने भी काम किया है। आलिया फिल्म को रिलीज़ न किये जाने से खफ़ा लगती हैं। उन्होंने ट्वीट किया है कि कश्मीर में युवा जोड़ी के प्यार की कहानी पर बनी इस फिल्म की टीम ने बड़ी मेहनत से ये फिल्म बनाई है। उम्मीद है कि सेंसर बोर्ड इस फिल्म से बैन हटा देगा। यह भी सहानुभूति से जुड़ी है। प्यार को मौका दिया जाना चाहिए।

नो फादर्स इन कश्मीर, पिछले छह महीने से सेंसर में अटकी पड़ी है। सेंसर को फिल्म देखने के लिए जुलाई में अर्जी दी गई और अक्टूबर में सेंसर बोर्ड ने फिल्म देखी। सेंसर समितियों ने इस फिल्म को ए सर्टिफिकेट दिए जाने की संस्तुति की। ये फिल्म कश्मीर में रहने वाले 16 साल के दो लोगों की कहानी है जो अपने अपने लापता पिता को ढूंढ रहे हैं।

निर्माता के मुताबिक इस फिल्म में को भी आपत्तिजनक कंटेंट नहीं है तो इसे एडल्ट सर्टिफिकेट क्यों दिया गया है। मामला अभी तक नहीं सुलझा है। इस फिल्म में सोनी का अलावा अंशुमान झा और कुलभूषण खरबंदा भी हैं।

यह भी पढ़ें: लो...आलिया तो हो गई हैं राज़ी, बस इस साल रुकना होगा, अगले बरस...

Posted By: Manoj Khadilkar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस