नई दिल्ली, जेएनएन। बॉलीवुड ऐसी इंडस्ट्री है, जहां रिश्ते बड़ी मुश्किल से बनते हैं। कौन कब दोस्त से दुश्मन बन जाए, कहा नहीं जा सकता है। ऐसे में असली और गहरी दोस्ती को बनाए रखना मुश्किल हो जाता है। बात की जाए अभिनेता अली फजल और सत्यजीत दुबे की तो उनकी दोस्ती वक्त के साथ गहरी ही होती जा रही है। फिल्म ‘प्रस्थानम’ में दोनों भाई का किरदार निभा रहे हैं। अली और सत्यजीत करियर के शुरुआती दौर से ही एक साथ हैं। दोनों ने फिल्म ‘ऑलवेज कभी-कभी’ में साथ काम किया था। तब से यह दोस्ती चली आ रही है।

करियर की इस रेस में अंतरराष्ट्रीय फिल्म  'विक्टोरिया और अब्दुल' और 'मिर्जापुर' जैसी वेब सीरीज करके अली भले ही सत्यजीत से थोड़े आगे निकल गए हों, लेकिन उनकी दोस्ती न कभी सत्यजीत से टूटी, न ही दोनों की दोस्ती में कोई दरार आई। अली ने हमेशा सत्यजीत को आगे बढ़ने के लिए प्रोत्साहित किया है। दोनों ने फिल्म ‘प्रस्थानम’ में सौतेले भाइयों का किरदार निभाया है, जिनके बीच में दुश्मनी है। जिगरी दोस्त अली और सत्यजीत के लिए यह किरदार निभाना आसान नहीं था।

सत्यजीत की माने तो स्क्रिप्ट की डिमांड थी। जब फिल्म में अली से उनका झगड़ा होता है, तो वह झगड़ा सत्यजीत नहीं, बल्कि फिल्म में उनका किरदार कर रहा था। दो भाइयों के बीच में जो लड़ाई और नफरत थी उसकी वजहें स्क्रिप्ट में साफ तौर पर लिखी गई थी। इस वजह से इस किरदार को वह दोनों निभा पाए। सत्यजीत बताते हैं कि कई बार दोनों गलती से एक-दूसरे को मुक्का भी मार देते थे। जब भी दोनों के बीच मुश्किल सीन होते थे, तब वह सीन के बाद एक-दूसरे को गले लगा लेते थे। सत्यजीत कहते हैं कि वह और अली दोनों ही संजय दत्त के बड़े फैन भी हैं। उनका मानना है कि कायनात ने इस फिल्म में सबको मिला दिया है। वह और अली भाई बने हैं, वहीं उनके पिता के रोल में संजय दत्त हैं।

Photo Credit- Instagram

Posted By: Rajat Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप