मुंबई। अक्षय कुमार ने मुंबई में अपनी फिल्म केसरी के सॉन्ग तेरी मिट्टी के लॉन्च पर पत्रकारों से विशेष बातचीत की। इस मौके पर उन्होंने बताया कि बैटल ऑफ सारागढ़ी को लेकर उन्हें इस बात का दुख है कि इस अदम्य साहस और वीरता के बारे में किसी भी इतिहास की पुस्तक में नहीं बताया जाता। जबकि अंग्रेज बैटल ऑफ सारागढ़ी के नाम पर सारागढ़ी दिवस मनाते हैं।

अक्षय कुमार ने आगे यह भी कहा कि इस फिल्म के बारे में जब उन्हें जानकारी मिली, तब उन्होंने गूगल पर इस विषय के बारे में छानबीन की। तब उन्हें पता चला कि गूगल पर इसके बारे में बहुत ही कम मात्रा में जानकारी उपलब्ध है। ऐसा ही कुछ उनकी फिल्म एअरलिफ्ट के साथ भी हुआ था। जब उन्हें वह फिल्म ऑफर हुई थी, तब उसके बारे में मात्र एक आर्टिकल पढ़ने मिला था लेकिन फिल्म आने के बाद अब उस पर लाखों की संख्या में लेख उपलब्ध हैं। अक्षय कुमार को आशा है कि इस फिल्म के साथ भी ऐसा ही होगा।

अक्षय ने आगे यह भी इच्छा जताई कि इस फिल्म को स्कूलों में बच्चों के पाठ्यक्रम में शामिल करना चाहिए। उन्होंने यह भी कहा कि अगर नहीं भी होगी तो कोई बात नहीं बच्चे इस फिल्म को देखकर बहुत कुछ सीख सकते हैं। इस मौके पर अक्षय कुमार की फिल्म का गाना भी रिलीज किया गया। इसको लेकर अक्षय कुमार ने बताया कि यह गाना किसी सैनिक को गोली लगने के बाद जब वह वीरगति को प्राप्त होने वाला होता है तब जो आखिर के 35 से 40 सेकंड होते हैं उसकी आंखों के सामने जो उसका जीवन चक्र घूमता है उसे इस गाने में बताने का प्रयत्न किया गया है। बैटल ऑफ सारागढ़ी पर आधारित यह फिल्म केसरी होली के अवसर पर 21 मार्च को रिलीज हो रही है। इस फिल्म में अक्षय कुमार के अलावा परिणीति चोपड़ा की अहम भूमिका है। 

 

Posted By: Rahul soni