नई दिल्ली, जेएनएन। बॉलीवुड के सबसे कामयाब अभिनेताओं में से एक अक्षय कुमार ने इंडस्ट्री में 30 साल का लम्बा सफ़र तय कर लिया। 1991 में 25 जनवरी को अक्षय कुमार की डेब्यू फ़िल्म सौगंध रिलीज़ हुई थी। यह वो दौर था, जब हिंदी सिनेमा में शाह रुख़ ख़ान, सलमान ख़ान, आमिर ख़ान और अजय देवगन का उदय हो रहा था। ऐसे में टॉल एंड हैंडसम अक्षय कुमार ने एक्शन हीरो के रूप में बड़े पर्दे पर आकर तहलका मचा दिया था। नब्बे के दौर में उन्होंने अधिकांश रोमांटिक-एक्शन फ़िल्मों में मुख्य भूमिकाएं निभायीं, मगर बाद के दशकों में उन्होंने तकरीबन हर जॉनर में कामयाब फ़िल्में दीं। 

सौगंध का निर्देशन राज सिप्पी ने किया था। फ़िल्म में अक्षय कुमार की लीडिंग लेडी शांतिप्रिया थीं, जो दक्षिण भारत की जानी-मानी एक्ट्रेस भानुप्रिया की बहन हैं। फ़िल्म में राखी और मुकेश खन्ना सहयोगी किरदारों में शामिल थे। शांतिप्रिया का भी यह हिंदी डेब्यू था। सौगंध एक रोमांटिक ड्रामा फ़िल्म थी, जिसमें अक्षय ने अपने स्टंट और एक्शन से सभी का ध्यान आकर्षित किया। 

अब्बास-मस्तान ने बनाया खिलाड़ी

1992 में आयी अब्बास-मस्तान की सस्पेंस-थ्रिलर फ़िल्म अक्षय की पहली बड़ी कामयाबी थी। इस फ़िल्म की सफलता को बॉलीवुड में खिलाड़ी का उपनाम दे दिया था और आगे चलकर अक्षय के साथ कई निर्माताओं ने खिलाड़ी सीरीज़ में फ़िल्में जोड़ीं। ये सभी एक्शन या कॉमेडी एक्शन जॉनर की फ़िल्म हैं। इस सीरीज़ की आख़िरी फ़िल्म खिलाड़ी 786 है, जो 2012 में आयी थी।

हेराफेरी से दिखाये कॉमेडी के रंग

सदी बदलने के साथ अक्षय की अदाकारी का नया रंग हेराफेरी के रूप में सामने आया, जिसे प्रियदर्शन ने डायरेक्ट किया था। हेराफेरी हिंदी सिनेमा की कल्ट फ़िल्म मानी जाती है। इस फ़िल्म में उनके साथ परेश रावल और सुनील शेट्टी ने मुख्य किरदार निभाये थे। हेराफेरी के बाद अक्षय ने कई कॉमेडी फ़िल्मों में काम किया। यह सिलसिला आज भी जारी है।

सोशल मैसेज देने वाली फ़िल्में

अक्षय ने वक़्त के साथ बॉक्स ऑफ़िस के मजबूत खिलाड़ी के रूप में ख़ुद को स्थापित किया है। हालांकि, पिछले कुछ सालों में उनकी फ़िल्मों का चयन काफ़ी बदला है। अक्षय एक साल में 3-4 फ़िल्में करते हैं और इनमें ऐसी फ़िल्में भी शामिल रहती हैं, जिनमें कोई सोशल मैसेज रहता हो या देशभक्ति का संदेश देती हों। इनमें पैडमैन, टॉयलेट एक प्रेम कथा, केसरी, एयरलिफ़्ट, गोल्ड, लक्ष्मी, मिशन मंगल जैसी फ़िल्में शामिल हैं। 

बॉक्स ऑफ़िस के मजबूत खिलाड़ी

बॉक्स ऑफ़िस पर अक्षय की धमक उनकी फ़िल्मों के कलेक्शंस से पता चलती है। अक्षय की 11 फ़िल्मों ने कम से कम 100 करोड़ का नेट कलेक्शन बॉक्स ऑफ़िस पर किया है। 100 करोड़ में जाने वाली अक्षय कुमार की पहली फ़िल्म हाउसफुल 2 है।

वहीं, 3 फ़िल्में 200 करोड़ क्लब में शामिल हैं। अक्षय अकेले ऐसे सुपरस्टार हैं, जिसकी एक ही साल में तीन फ़िल्मों ने कम से कम 200 करोड़ का कलेक्शन बॉक्स ऑफ़िस पर किया हो। अक्षय ने यह कारनामा 2019 में किया था, जब उनकी फ़िल्मों मिशन मंगल, हाउसफुल 4 और गुड न्यूज़ ने 200 करोड़ से अधिक जमा किये थे।

2020 में कोरोना वायरस पैनडेमिक की वजह से अक्षय कुमार की कोई फ़िल्म सिनेमाघरों में रिलीज़ नहीं हो सकी। सिर्फ़ लक्ष्मी डिज़्नी प्लस हॉटस्टार पर आयी थी। इस साल अक्षय की सूर्यवंशी, अतरंगी रे, पृथ्वीराज  और बेल बॉटम आने वाली हैं।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप