नई दिल्ली, जेएनएन। हैदराबाद में वेटरिनरी डॉक्टर के साथ दुष्कर्म और हत्या से पूरे देश में गुस्सा देखा जा सकता है। फ़िल्मी दुनिया के लोग भी इस पर अपनी बातें रख रहे हैं। इस बीच मी टू कैंपेन को लेकर मुखर रहीं एक्ट्रेस तनुश्री दत्ता ने उत्पीड़न के मामले को लेकर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि भारत में उत्पीड़न के मामलों को गंभीरता पूर्वक नहीं लिया जाता है।

zoom में छपी रिपोर्ट के मुताबिक, तनुश्री ने अपने मीडिया टीम के हवाले इस यह बयान जारी किया है। इसमें उन्होंने एजुकेशन पर जोर देने की बात कही। इसके अलावा उन्होंने इस पर भी सवाल खड़ा किया आखिर भारत को महिलाओं के लिए सुरक्षित कैसे बनाया जाए? तनुश्री ने कहा,' हमारे देश में कोई भी 'यौन उत्पीड़न' शब्द का मतलब नहीं समझता है। शायद उन्हें 'उत्पीड़न' शब्द का मतलब नहीं पता या वे ना समझने का दिखावा करते हैं।

उन्होंने आगे कहा, 'कई मनोवैज्ञानिक अध्ययनों और रिपोर्टों के अनुसार बहुत बार भारत में 'यौन उत्पीड़न' के शिकायकर्ताओं को गंभीरता से नहीं लिया जाता है, जबकि महिलाओं के साथ पूरे देश में ईव-टीजिंग और अनुचित व्यवहार किया जाता है।' तनुश्री ने महिला राजनेताओं से अपील की, वे इस मुद्दे को काफी गंभीरता से उठाएं। वहीं, स्कूली पाठ्यक्रमों में बच्चों को जागरूक करने वाले विषयों को शामिल करने की भी अपील की।

बता दें कि इससे पहले भी तनुश्री दत्ता इन विषयों को लेकर मुखर रही हैं। मीटू कैंपन के दौरान वह काफी खुलकर सामने आई थीं। उन्होंने नाना पाटेकर के ऊपर गंभीर आरोप लगाए थे। हालांकि, नाना इन आरोपों का लगातार खारिज़ करते रहे। इसके अलावा हाल ही में तनुश्री और भी मीटू आरोपों को लेकर सोशल मीडिया पर सक्रिय रही हैं। हाल ही आमिर ख़ान के सुभाष कपूर के साथ काम करने को लेकर भी अपनी प्रतिक्रिया दी थी। उन्होंने आमिर से मीटू आरोप झेल रहे सुभाष के साथ काम करने को लेकर तीखे सवाल पूछे थे।

(Photo Credit- Tanushree Instagram)

Posted By: Rajat Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस