रुपेशकुमार गुप्ता, मुंबई। एक्टर रितेश देशमुख की फिल्म 'बैंक चोर' से जुड़े एक कार्यक्रम में रितेश का खूब मजाक उड़ाया गया। जहां एक ओर पत्रकारों ने उनकी फिल्मों और उनके काम का मजाक उड़ाया तो वहीं उनके को-स्टार विवेक भी पीछे नहीं थे। विवेक ने तो मराठी कोटे के अंतर्गत फिल्म इंडस्ट्री में उनकी एंट्री करने की बात कही। 

एक्टर रितेश देशमुख ने मुंबई में फिल्म 'बैंक चोर' से जुड़े एक कार्यक्रम में अपनी जमकर बेइज्जती करवाई। खास बात यह है कि जब उनकी बेइज्जती हो रही थी तब वह एक आरामदायक कुर्सी पर बैठकर सिर्फ सब सुन रहे थे। रितेश देशमुख को पत्रकारों ने जमकर खरी खोटी सुनाई, जिसमें कभी उनसे कहा गया कि वह एक बेहद ही घटिया अभिनेता हैं और पिछले 15 वर्षों से दर्शक उन्हें झेल रहे हैं। रितेश देशमुख को उनके अभिनय के लिए भी जमकर लताड़ा गया। रितेश की फिल्मों पर भी जमकर मीडिया ने सवालिया निशान लगाए, जिसमें फिल्म निर्देशक साजिद खान की फिल्म 'हमशकल्स' और फिल्म 'डू नॉट डिस्टर्ब' शामिल है। गौरतलब है कि फिल्म 'हमशकल्स' में सभी का ट्रिपल रोल था और फिल्म बॉक्स ऑफिस पर एकदम डब्बा साबित हुई थी।

यह भी पढ़ें: पांच जून से अमिताभ-आमिर की ठगी शुरू, यूरोप के इस ख़ूबसूरत देश पर पहला धावा

इस कार्यक्रम में रितेश देशमुख की बेइज्जती करने का मौका फिल्म अभिनेता विवेक ओबेराय ने भी नहीं छोड़ा। उन्होंने कहा, ''रितेश देशमुख को फिल्म इंडस्ट्री में मौका मराठी कोटे के अंतर्गत मिला है। रितेश देशमुख ने आर्किटेक की पढ़ाई भी की थी लेकिन अच्छा हुआ जो आर्किटेक नहीं बना क्योंकि फिल्मों से 200 और 250 रुपयों का नुकसान होता है। कहीं आर्किटेक बन जाता तो पता नहीं कितने का नुकसान करता।'' आपको बता दें कि, इस कार्यक्रम का स्वरुप ही ऐसा था कि रितेश देशमुख को अपनी बेइज्जती बैठकर सुननी पड़ी। 

Posted By: Rahul soni