मुंबई। आमिर खान जितने परफेक्शनिस्ट हैं उतने ही अपने मन के मालिक। कब क्या कर जाएं किसी को ख़बर नहीं। पहले ख़ुद ही कहा था कि महाभारत बनाने का मन है लेकिन अब हॉलीवुड की फिल्म के हिंदी रीमेक को लेकर आने वाले हैं। इस बीच ये भी ख़बर है कि वो बड़े परदे पर छत्रपति शिवाजी का रोल भी करने के लिए आतुर हैं।

अभी अपने जन्मदिन के मौके पर आमिर ने मीडिया को बताया था कि वो अब फारेस्ट गम्प का हिंदी रीमेक कर रहे हैं जिसका नाम लाल सिंह चड्ढा है। अद्वैत चंदन इस फिल्म को डायरेक्ट करेंगे। बताते हैं कि आमिर खान अब भी महाभारत में दिलचस्पी रख रहे हैं लेकिन अब उसे बड़े पर्दे पर नहीं लाना चाहते। आमिर खान छत्रपति शिवाजी महाराज की वीरता भरी कहानियों से बेहद प्रभावित हैं और चाहते हैं कि वो उनका रोल अदा करें। उनका कहना है कि उन्हें लगता है कि वो छत्रपति शिवाजी महाराज जैसे लगते हैं और उनके किरदार को परदे पर बखूबी उतार सकते हैं। लेकिन ऐसा कब होगा इसके लिए आमिर खान के पास कोई जवाब नहीं है। हो सकता है अपनी अगली फिल्म लाल सिंह चड्ढा खत्म करने के बाद वो छत्रपति शिवाजी महाराज के बारे में सोचें।

आपको बता दें कि इन दिनों ऐतिहासिक किरदारों और युद्ध पर फिल्मों का चलन आ गया है। अफगानों के साथ युद्ध को लेकर अक्षय कुमार की केसरी जल्द आने वाली है। संजय दत्त और अर्जुन कपूर भी पानीपत में दिखने वाले हैं और रणवीर सिंह की तख़्त भी इसमें शामिल है। बाहुबली का इतिहास तो आप जानते है हैं। हालांकि आमिर खान की पिछले साल आई ठग्स ऑफ हिंदोस्तान भी युद्ध की झलक लिए थे लेकिन फ्लॉप हो गई और आमिर ने उसके लिए माफ़ी भी मांग ली।

हाल ही में आमिर खान ने संकेत दे दिया है कि वो जब पूरी तरह से फिल्मों में डायरेक्शन या प्रोडक्शन करने लगेंगे तब एक्टिंग छोड़ देंगे। समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक उन्हें फ़िल्में बनाना बहुत ही पसंद है। तारे ज़मीं पर को डायरेक्ट भी किया था। लेकिन फिल्ममेकिंग और एक्टिंग को अलग नहीं देख सकता। शुरुआत एक्टिंग से की गहि और उसी का अट्रैक्शन रहा है और यही कारण है कि जिस दिन मैं पूरी तरह डायरेक्टर बनने का फैसला कर लूंगा उस दिन एक्टिंग छोड़ दूंगा। पर अभी ऐसा नहीं है इसलिए अपने अंदर के डायरेक्टर को सपने में दबा कर बैठा हूँ।

यह भी पढ़ें: माधुरी तो हैं ही माशा अल्लाह, पर आलिया भट्ट का ये काम भी है 'बाहुबली'

Posted By: Manoj Khadilkar