नई दिल्ली, जेएनएनl सलमान खान के बांद्रा स्थित घर गैलेक्सी अपार्टमेंट को बम से उड़ाने की धमकी दी गई थीl इसके बाद सलमान खान के पिता सलीम खान, मां सलमा खान और बहन अर्पिता खान शर्मा सहित खान परिवार के सदस्यों को मुंबई पुलिस ने सुरक्षित जगह पर पहुंचाया और BDDS की टीम ने लगभग चार घंटे तक उनके अपार्टमेंट की तलाशी ली।

तलाशी के समय घर पर सलमान खान घर पर नहीं थे। सलमान खान के घर गैलेक्सी अपार्टमेंट में बम की धमकी का एक झूठा मेल उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद से एक 16 वर्षीय लड़के ने भेजा थाl इसके कारण मुंबई पुलिस हाई अलर्ट पर आ गई थी।

 

 

 

 

 

 

 

 

View this post on Instagram

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

Good morning 😘❤️ beautiful pic 😘❤️ : : : @beingsalmankhan @aaysharma @sohailkhanofficial : : : #salmankhan #shahrukhkhan #dabangg3 #shraddhakapoor #kritisanon #shahidkapoor #priyankachopra #ranveersingh #shahdaisy #sonakshisinha #katrinakaif #jacquelinefernandez #kareenakapoor #deepikapadukone #varundhawan #anushkasharma #aamirkhan #aliabhatt #iamsrk #srk #salmankhanlove #katrinakaif_love #katrinakaif_love💖

A post shared by being salman khan 🇮🇳 (@salman_khan_fan_club_20) on

इस ईमेल में लिखा गया था, ‘बांद्रा में गैलेक्सी, सलमान खान के घर पर अगले 2 घन्टे में ब्लास्ट होगा, रोक सकों तो रोको लो।' यह ईमेल 4 दिसंबर को मुंबई पुलिस को भेजा था। हिंदुस्तान टाइम्स के अनुसार, ‘अतिरिक्त पुलिस आयुक्त डॉ. मनोज कुमार शर्मा, पुलिस उपायुक्त परमजीत सिंह दहिया और वरिष्ठ निरीक्षक विजयलक्ष्मी हिरेमथ बम का पता लगाने वाले दस्ते के साथ गैलेक्सी अपार्टमेंट पहुंचे और जांच कीl’

 

 

 

 

 

 

 

 

View this post on Instagram

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

Chulbul&Rajjo #dabangg3promotions #SALSONA #couplegoals #dabangg3 #salmankhan #sonakshisinha #kapilsharmashow #biggboss13 #bb13 #lovethem #cuties #salmansonakshi #couple #dabanggtour #rajjo #bestcouple

A post shared by Chulbul&Rajjo (@salsonaforever) on

बांद्रा पुलिस स्टेशन के एक अधिकारी ने बताया, ‘हमने उनके अपार्टमेंट के हर कोने और इमारत की जांच की और इसमें हमें लगभग तीन से चार घंटे लग गया। इसके बाद ही परिवार को उनके अपार्टमेंट में वापस भेजा गया।’ वरिष्ठ पीआई हिरेमथ ने आगे कहा, ‘एक बार जब हमें पता चला कि यह एक धोखा था, तो हमने तकनीक के माध्यम से अपराधी को ट्रैक किया और पाया कि यह गाजियाबाद का एक नाबालिग लड़का था। इसके बाद हमने एक टीम गाजियाबाद भेजी।’

नाबालिक लड़का पुलिस द्वारा पकड़े जाने से बचने के लिए तीस हजारी कोर्ट में छिप गया था। हालांकि उनके बड़े भाई ने लड़के को घर आने के लिए मना लियाl उसके खिलाफ मामला दर्ज कर उसे जुवेनाइल कोर्ट में पेश किया गयाl

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस