नई दिल्ली, एजेंसियां। पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव (West Bengal Assembly Election) के तीसरे चरण (Third Phase) के लिए वोटिंग हुई है। तीसरे चरण में हावड़ा की सात, हुगली की आठ और दक्षिण 24 परगना जिले की 16 सीटें हैं। तीसरे चरण (Third Phase) में तीन जिलों हावड़ा, हुगली और दक्षिण 24 परगना की 31 सीटों पर कुल 205 उम्मीदवार मैदान में हैं। चुनाव आयोग के बयान के मुताबिक 78 लाख 52 हजार के करीब मतदाता 205 उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला करेंगे। आइए जानते हैं चुनाव के तीसरे चरण को लेकर पीएम मोदी ने क्या कहा..

Bengal Chunav Political Reactions: 

पीएम मोदी ने की वोटिंग की अपील

पीएम मोदी ने बंगाल समेत पांच राज्यों में चुनाव को लेकर ट्वीट किया है। पीएम मोदी ने ट्वीट में लिखा- असम, केरल, पुडुचेरी, तमिलनाडु और पश्चिम बंगाल में चुनाव हो रहे हैं। मैं लोगों से अनुरोध करता हूं कि वे रिकॉर्ड संख्या में मतदान करें, खासकर युवा मतदाता।

ममता बनर्जी का ट्वीट

ममता बनर्जी ने लिखा- बंगाल के मां-माटी-मानुष से मेरी अपील है। मत देने के लिए अपने लोकतांत्रिक अधिकार का प्रयोग करें। आज बड़ी संख्या में बाहर आएं और मतदान करें।

अमित शाह ने लिखा- मैं बंगाल के तीसरे चरण के सभी मतदाताओं से अपील करता हूँ कि एक मजबूत और निर्णायक नेतृत्व ही बंगाल में शांति, समृद्धि और विकास सुनिश्चित कर बंगाल को आत्मनिर्भर बना सकता है। इसलिए मतदान अवश्य करें और बंगाल के विकास में भागीदार बने।

बंगाल चुनाव को लेकर जेपी नड्डा ने लिखा- आज पश्चिम बंगाल में तीसरे चरण का मतदान हो रहा है। सभी मतदाताओं से आग्रह करता हूँ कि कोविड की सावधानियों को ध्यान में रखते हुए प्रदेश की प्रगति के लिए अधिक से अधिक संख्या में मतदान कर लोकतंत्र के इस पर्व में अपनी भागीदारी अवश्य सुनिश्चित करें।

भाजपा नेता वसुंधरा राजे ने बंगाल, असम, तमिलनाडु, पुडुचेरी और केरल में चुनावों को लेकर कहा कि मैं आप सभी से आग्रह करता हूँ कि आप अपने मताधिकार का प्रयोग करें और एक भारत के लिए मतदान करें! मास्क पहनना न भूलें और शारीरिक दूरी प्रोटोकॉल का पालन करें।

पश्चिम बंगाल में तीसरे चरण में मुकाबला युवा और अनुभवी चेहरों के बीच है। पहले दो चरणों में तमाम निगाहें नंदीग्राम और जंगलमहल इलाके पर टिकी थीं, लेकिन तीसरे दौर में हावड़ा, हुगली और दक्षिण 24-परगना जिले की 31 सीटें भी महत्वपूर्ण हैं। इस दौर में जहां सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस के सामने अपना सबसे मजबूत गढ़ बचाने की चुनौती है।

टीएमसी का गढ़ और चुनौती 

दक्षिण 24-परगना को अब भी तृणमूल का सबसे मजबूत गढ़ माना जाता है। बीते विधानसभा चुनावों के आंकड़ों से यह बात साफ हो जाती है। तब तृणमूल ने इनमें से 29 सीटों पर कब्जा जमाया था। बाकी दो में से एक-एक सीट कांग्रेस और लेफ्ट को मिली थी। बीते लोकसभा चुनावों में पूरी ताकत झोंकने के बावजूद भाजपा उसके वोट बैंक में सेंध लगाने में कामयाब नहीं हो सकी थी।  

तीसरे चरण में जिन सीटों पर सबकी निगाह रहेगी, उनमें दक्षिण 24-परगना जिले की बारुईपुर पश्चिम सीट शामिल है। यहां विधानसभा अध्यक्ष विमान बनर्जी तृणमूल के टिकट पर मैदान में हैं। इसी जिले की रायदीघी सीट पर सीपीएम ने अपने वरिष्ठ नेता और पूर्व मंत्री कांति गांगुली को एक बार फिर मैदान में उतारा है।

Edited By: Shashank Pandey