कोलकाता, राज्य ब्यूरो। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने सोमवार को कहा कि उनकी पार्टी बंगाल में पूर्ण बहुमत की सरकार बनाएगी। कोलकाता के टॉलीगंज से भाजपा प्रत्याशी व केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो के समर्थन में यहां रोड शो के दौरान नड्डा ने कहा- बंगाल में दो चरणों में हुए चुनावों से साफ संकेत मिलते हैं कि राज्य में भाजपा आगे चल रही है। बंगाल के लोगों ने परिवर्तन का मन बना लिया है और बाबुल सुप्रियो टॉलीगंज से चुनाव जीतेंगे। साथ ही राज्य में कमल खिलेगा। नड्डा ने टॉलीगंज ट्राम डिपो से गरिया मोड़ तक रोड शो किया। रोड शो में लोगों का जनसैलाब उमड़ पड़ा। इस दौरान उन्होंने भाजपा प्रत्याशी बाबुल सुप्रियो एवं बेहला पूर्व से पार्टी प्रत्याशी व अभिनेत्री पायल सरकार के लिए वोट मांगा। रोड शो के दौरान हजारों की संख्या में आए लोगों ने जय श्रीराम, वंदे मातरम, भारत माता की जय, नरेंद्र मोदी जिंदाबाद आदि के नारे लगाए। नड्डा एक खुली जीप में सवार थे और विजय का चिन्ह दिखा रहे थे। उनके साथ पार्टी के दोनों उम्मीदवार भी थे। उन्हेंं देखने के लिए छतों पर और सड़क के दोनों किनारे लोग खड़े थे। नड्डा इस दौरान कार्यकर्ताओं पर फूल भी बरसाए तथा आसपास के मकानों से उनके उपर भी फूल बरसाए गए।

जया बच्चन के तृणमूल के लिए प्रचार करने पर किया कटाक्ष

नड्डा ने समाजवादी पार्टी की राज्यसभा सदस्य जया बच्चन द्वारा तृणमूल कांग्रेस के लिए प्रचार करने पर भी कटाक्ष किया। उन्होंने कहा- प्रजातंत्र है, सबको अधिकार है। उत्तर प्रदेश से वे आती हैं जहां मैं चुनाव प्रभारी था, वहां तो उनके (जया बच्चन) दर्शन नहीं हुए। उनका यहां भी स्वागत है। दरअसल, जया सोमवार को प्रचार करने कोलकाता पहुंची।

बंगाल में रैली रद कर दिल्ली लौटे नड्डा

इधर, भाजपा ने नड्डा की हुगली जिले में होने वाली दो रैलियों को रद कर दिया, क्योंकि उन्हें जरूरी बैठक के लिए दिल्ली जाना पड़ा। भाजपा अध्यक्ष की श्रीरामपुर में सुबह में होने वाली सभा को अज्ञात कारणों से रद कर दिया गया। दोपहर में उन्होंने कोलकाता में रोड में हिस्सा लिया। वहीं, शाम में हुगली के चुंचुड़ा में होने वाली रैली को रद कर दिया गया। प्रदेश भाजपा ने कहा कि उनकी रैलियों को इसलिए रद किया गया क्योंकि उन्हें जरूरी बैठक में हिस्सा लेने के लिए वापस दिल्ली जाना पड़ा है। इधर, तृणमूल कांग्रेस ने कहा कि नड्डा को रैली इसलिए रद करनी पड़ी, क्योंकि इनमें लोगों की शिरकत कम थी।

Edited By: Neel Rajput