कोलकाता, जेएनएन। पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव को लेकर एग्जिट पोल के रुझानों के अनुसार भाजपा और तृणमूल कांग्रेस में कांटे टक्कर देखने को मिल सकती है। दो चैनलों के पोल में जहां मामूली अंतर से भाजपा आगे दिखाई दे रही है। वहीं दो के अनुसार टीएमसी फिर से सरकार बनाती दिखाई दे रही है। वहीं एक चैनल के अनुसार भाजपा बड़ा उलटफेर कर सकती है। एबीपी और टाइम्स नाउ के एग्जिट पोल के रूझान के अनुसार टीएमसी फिर से सरकार बनाती दिखाई दे रही है। वहीं इंडिया टीवी के एग्जिट पोल के अनुसार राज्य में बड़ा उलटफेर हो सकता है। इसके अनुसार भाजपा को पूर्ण बहुमत मिलता दिखाई दे रहा है। वहीं तृणमूल 100 से कम सीट पर सिमटती दिख रही है। रिपब्लिक भारत के अनुसार भाजपा को बढ़त मिलता दिखाई दे रहा है। इसके अलावा आजतक के एग्जिट पोल में भाजपा और तृणमूल में कड़ी टक्कर देखने को मिल रही है। 

West Bengal Exit Polls Highlights:  

आजतक

आजतक के एग्जिट पोल में भाजपा और तृणमूल में कड़ी टक्कर देखने को मिल रही है। इसके अनुसार टीएमसी को 130-156, भाजपा को 134-160 और कांग्रेस + को 0-2 सीट मिलती दिखाई दे रही है।

इंडिया टीवी

इंडिया टीवी के एग्जिट पोल में भाजपा को बहुमत मिलता दिखाई दे रहा है। इसके अनुसार भाजपा को 173-192, टीएमसी 64-88 और कांग्रेस + को  7-12 सीट मिल सकती है।

एबीपी

एबीपी के एग्जिट पोल के अनुसार के अनुसार राज्य में तृणमूल कांग्रेस सत्ता में वापस आती दिखाई दे रही है। इसके अनुसार टीएमसी को 152-164 सीट मिल सकती है। भाजपा को 109-121 सीट मिल सकती है। कांग्रेस + को 14-25 सीट मिल सकती है।

रिपब्लिक भारत

रिपब्लिक भारत के अनुसार भाजपा को बढ़त मिलता दिखाई दे रहा है। इसके अनुसार टीएमसी को 126-136, भाजपा को 138-148 और कांग्रेस + को 11-21 सीट मिल सकती है। 

टाइम्स नाउ

टाइम्स नाउ के एग्जिट पोल के अनुसार टीएमसी हैट्रिक लगाती दिखाई दे रही है। इसके अनुसार टीएमसी को  158, भाजपा को 115 और कांग्रेस+ 19 सीट मिलती दिख रही है। 

चुनाव बाद ही एग्जिट पोल जारी किए जाते

बता दें कि सभी चरणों के मतदान संपन्न होने के बाद विभिन्न मीडिया संस्थानों द्वारा एग्जिट पोल के आंकड़े जारी किए जाते हैं। इसके माध्यम से यह पता लगाने की कोशिश की जाती है कि आखिर चुनाव परिणाम किसके पक्ष में आ रहा है। कौन सी पार्टी सरकार बनाने जा रही है। हालांकि, कई बार ये गलत भी साबित होते हैं। नियमानुसार चुनाव बाद ही एग्जिट पोल जारी किए जाते, ताकि चुनाव निष्पक्ष हो सके। माना जाता है कि पहले दिखाने से वोटर प्रभावित हो सकता है। यह जनप्रतिनिधित्व कानून 1951 की धारा 126 ए के खिलाफ है। 

आठ चरणों में हुए मतदान

बता दें कि पश्चिम बंगाल में आठ चरणों में मतदान हुए। 27 मार्च को प्रथम चरण में 84.13 फीसद, एक अप्रैल को दूसरे चरण में 86.11 फीसद, छह अप्रैल को तीसरे चरण में 84.61 फीसद, 10 अप्रैल को चौथे चरण में 79.90 फीसद, 17 अप्रैल को पांचवें चरण में 82.49 फीसद, 22 अप्रैल को छठे चरण में 82 फीसद, 26 अप्रैल को सातवें चरण में 76.90 फीसद और 29 अप्रैल को आठवें चरण में 76.07 फीसद मतदान हुआ। सूबे में पूरा चुनाव हिंसा से प्रभावित रहा। दो मई को नतीजे घोषित होंगे। 

यह भी पढ़ें: West Bengal Exit Polls 2021 LIVE Streaming: मतदान खत्म होने के बाद एग्जिट पोल पर होगी सबकी नजर, जानें कब और कहां होंगे जारी

 

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021