जेएनएन, बरेली : बदायूं के म्याऊं में आयोजित जनसभा में कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने नरेंद्र मोदी व भाजपा सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि पांच साल से केंद्र में मोदी सरकार और दो साल से प्रदेश में योगी की सरकार है। हर रैली में नरेंद्र मोदी कहते थे कि दो करोड़ युवाओं को रोजगार दूंगा। किसानों से कहते थे फसल का सही दाम दे सकता हूं और कर्जा भी माफ कर दूंगा। देश की जनता से कहा था कि हर खाते में 15 लाख रुपये डालकर दिखा दूंगा। पांच साल पहले नारा चलता था कि अच्छे दिन आएंगे। अब पांच साल बाद नारा चला है कि चौकीदार...। मोदी जी ने जो झूठ बोले हैं। उनकी सच्चाई पूरे देश के सामने हैं।  

उन्होंने कहा कि 45 साल से सबसे ज्यादा बेरोजगारी हमारे देश में हैं, फैक्टियां बंद। छोटे दुकानदारों की जिंदगियां नष्ट। बेरोजगार युवा हर प्रदेश में मिलेंगे। करोड़ाें युवा बेरोजगार हैं। 27 हजार युवा हर दिन रोजगार खोजते हैं, यह नरेंद्र मोदी की देन है। सबसे बड़ा झूठ बोला कि 15 लाख रुपये हर खाते में डालेंगे। मैंने यह बात पकड़ ली कि झूठ है। इसकी सच्चाई हिंदुस्तान को दिखाना चाहता हूं। पांच महीने पहले मैंने कांग्रेस के अर्थशास्त्रियों और थिंक टैंक वालों को बुलाया और पूछा कि पार्टी गरीब के खातों में पैसा डालना चाहे तो कितना पैसा डाल सकती है। 15 लाख न डाले तो कितना पैसा डाले जिससे देश की अर्थव्यवस्था को नुकसान न हो। अर्थशास्त्री गए और थोड़े दिन बाद वापस आकर उन्होंने कागज पर एक नंबर लिखा, 72 हजार रुपये...। साल के 72 हजार रुपये... पांच साल में 3 लाख 60 हजार रुपये। सरकार इतना पैसा हिंदुस्तान के गरीब लोगों को दे सकती है। इससे किसी को कोई नुकसान नहीं होने वाला।

जनता का पैसा छीनकर बड़े उद्योगपतियों की जेब में डाला

राहुल गांधी ने निशाना साधते हुए कहा कि चौकीदार ने नोटबंदी करके व गब्बर सिंह टैक्स लागू करके लोगों की जेब से रुपये निकालकर बड़े उद्योगपतियों की जेब में डाल दिए। 15-20 लोगों को जबरदस्त फायदा हुआ। 3 लाख 50 हजार करोड़ रुपये उनका कर्जा माफ हुआ। जिससे देश की अर्थव्यस्था का नुकसान हुआ। कैसे हुआ...? मैं बताता हूं। गरीब लोगों की जेब से पैसा छीन लिया गया और नीरव मोदी और विजय माल्या की जेब में डाल दिया गया। जैसे ही लोगों की जेब से पैसा निकला। लोगों ने माल खरीदना बंद कर दिया। वैसे ही हिंदुस्तान की फैक्ट्रियां बंद होने लगी। दुकानदार का माल बिकना बंद हो गया और फैक्ट्रियां बंद होने से बेरोजगारी बढ़ गई। 

न्याय योजना से गरीबों की जेबों में डालेंगे पैसा

राहुल गांधी ने कहा कि कांग्रेस सरकार यही पैसा उद्योगपतियों से छीनकर न्याय योजना के जरिये गरीबों की जेबों में डालने जा रही हैं। वो भी डायरेक्ट। कोई सरकारी अफसर नहीं। कोई बातचीत नहीं। 20 फीसद सबसे गरीब लोगों के अकाउंट में सलाना 72 हजार रुपये जाएंगे। जैसे ही यह पैसा लोगों के खातों में जाएगा। लोग चीजें खरीदने लगेंगे। कोई शर्ट खरीदेगा, कोई फोन खरीदेगा। जैसे ही लोग माल खरीदने लगेंगे, वैसे ही फैक्ट्रियां शुरू हो जाएंगी। उनमें बेरोजगारों को नौकरियां मिलने लगेंगी। देश की अर्थव्यस्था का इंजन स्टार्ट हो जाएगा। हम इंजन में पेट्रोल डालेंगे। पेट्रोल का नाम हैं न्याय योजना।

मोदी पूछते हैं पैसा कहां से आएगा, उनके दोस्त की जेब से आएगा

राहुल ने कहा कि 2019 के बाद 12 हजार प्रतिमाह कमाने वाला कोई भी हो, उसके बैंक काउंट में सलाना 72 हजार रुपये जाने वाले हैं। नरेंद्र मोदी जी पूछते हैं कि यह पैसा कहां से आएगा...कांग्रेस झूठ बोली...? मेरा जवाब है कि पैसा नरेंद्र मोदी जी के दोस्तों की जेब से आएगा। 

कांग्रेस दो हिंदुस्तान नहीं बनेंगे देगी

राहुल गांधी ने नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि नीरव मोदी, मेहुल चौकसी और माल्या बाहर घूम रहे हैं। लाखों करोड़ रुपये बैंक से कर्जा लिया। वापस नहीं किया। उन्हें भागने दिया जाता है। मगर हिंदुसतान का किसान 30 हजार रुपये का लोन ले तो उसे जेल में डाल देते हैं। जनता को न्याय चाहिए। अगर उद्योगपति लोन लेकर जेल नहीं जाएगा तो किसान भी जेल नहीं जाएगा। बोले, 2019 में जैसे ही कांग्रेस की सरकार बनेगी हम कानून काे बदल देंगे। हिंदुस्तान का कोई भी किसान कर्ज न लौटाने पर जेल नहीं जाएगा। मोदी पर तंज कसते हुए कहा कि हमें दो हिंदुस्तान नहीं चाहिए। एक हिंदुस्तान चाहिए जिसमें सभी को न्याय मिले। कांग्रेस दो हिंदुस्तान नहीं बनने देगी। पहले भगौड़े उद्योगपतियों को जेल में डालिए, फिर किसान जेल जाएंगे। 

मोदी से डरती है सपा-बसपा

राहुल गांधी ने गठबंधन पर भी सवाल खड़े किए। कहा कि कांग्रेस मोदी के खिलाफ लड़ी लेकिन सपा-बसपा के नेता मोदी से डरते हैं। उनकी हिस्ट्री है और मोदी के हाथ में सीबीआइ और र्इडी है। हम दिल खोलकर बोलते हैं हम किसी से नहीं डरते हैं। नरेंद्र मोदी ने कहते हैं कि 2 करोड़ लोगों को रोजगार दिया मगर किसी को नहीं दिया। हिंदुस्तान में 22 लाख खाली पद है एक साल में कांग्रेस इसे भरेगी। 10 लाख युवाओं को पंचायतों में रोजगार दिया जा सकता है। इसे हम भरेंगे।

यूपी में बिना रिश्वत बिजनेस की परमिशन नहीं मिल सकती

राहुल गांधी योगी सरकार को भी आड़े हाथ लेते हुए कहा कि अगर यूपी का कोई युवा छोटा सा उद्योग लगाना चाहता है तो उसे 15 सरकारी विभागों से परमिशन लेने जाना पड़ता है। हर विभाग में उससे रिश्वत मांगी जाती है। बिना रिश्वत यूपी में परमिशन नहीं मिल सकती। बिजनेस खोलने से पहले पूरा का पूरा पैसा परमिशन लेने में खर्च हो जाता है। मैनीफिस्टों में हमने लिख दिया है कि यूपी का कोई युवा छोटा बिजनेस शुरू करना चाहता है तो उसे किसी सरकारी विभाग से परमिशन लेने की जरूरत नहीं है। कोई भी युवा बिना परमिशन के तीन साल तक अपना बिजनेस चला सकता है। जब उसका बिजनेस मजबूत हो जाएगा, तब परमिशन ले लें। हिंदुस्तान के बैंक यूपी के युवाओं को लोन देंगे, बड़े उद्योगपतियों को नहीं। 

मोदी बेरोजगारी और किसानों पर बात क्यों नहीं करते 

कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि नरेंद्र मोदी नेशनल सिक्योरिटी की बात करते हैं, देश भक्ति की बात करते हैं। मगर देश का सबसे बड़ा मुद्दा बेरोजगारी का है उस पर बात क्यों नहीं करते। किसान की हालत की बात क्यों नहीं करते। नरेंद्र मोदी ये क्यों नहीं बताते कि किसान आत्महत्या क्यों कर रहे हैं, वो फेल हुए हैं। 

गारंटी लेता हूं, राफेल मामले में कार्रवाई होगी 

राहुल गांधी ने जनसभा में एक बार फिर राफेल मामले को लेकर मोदी पर हमला बोला। बोले- राफेल मामले से कोई नहीं बच पाएगा। राफेल मामले में इनक्वायरी होगी और कार्रवाई भी होगी। मैं गारंटी लेता हूं। इनक्वायरी में दो चौकीदारों के नाम निकलेंगे। सच्चाई से कोई नहीं बच सकता। 

बसपा, सपा और भाजपा ने किया यूपी को बर्बाद

कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने विपक्षी दलों पर हमलावर नजर आएं। कहा कि बसपा, सपा और भाजपा ने यूपी का बहुत नुकसान किया है। यूपी बाकी प्रदेशों को रास्ता दिखाता है। बाकि प्रदेश यूपी की ओर देखते हैं कि वह क्या कर रहा है। मगी तीनों दलों ने यूपी को बर्बाद कर दिया है। इसलिए प्रियंका और सिंधिया को यहां भेजा है। एक लक्ष्य दिया है कि यूपी में कांग्रेस की विचारधारा की सरकार बनानी है और हम बनाकर दिखाएंगे। यूपी में ऐसी सरकार देंगे कि पूरा देश यूपी की ओर देखकर कहेगा कि हमें ऐसी सरकार चाहिए। 

झूठे सपने देखने के लिए मोदी की रैली में जाएं

राहुल गांधी ने कहा कि एक तरफ अन्याय, दूसरी तरफ न्याय है। एक तरफ 2 करोड़ युवाओं को रोजगार का झठ तो दूसरी तरफ 22 लाख युवाओं को रोजगार का वादा है। एक तरफ 15 लाख का झूठ और दूसरी तरफ 72 हजार देने का वादा। अब जनता को निर्णय लेना है कि सच पर भरोसा करना है या झूठे वादे सुनने हैं। झूठे सपने देखने है तो मोदी की रैली में जाएं जो चाहे वो सपना देख लें, दिख जाएगा। यदि सच्चाई सुननी है तो कांग्रेस के पास आएं। क्योंकि सच्चाई से ही देश और प्रदेश की तरक्की होगी। 

Posted By: Abhishek Pandey