लखनऊ(जेएनएन)। यूपी विधानसभा चुनाव तो शांतिपूर्ण तरीके से निबटते जा रहे हैं लेकिन इसके बाद चुनावी रंजिश अपनी जगह बनाती जा रही है। प्रतापगढ़ और बागपत में ऐसे दो मामले सामने आए हैं। प्रतापगढ़ में पक्ष में वोट नहीं देने पर एक दिव्यांग महिला की नाक काटे जाने का प्रयास किया गया। हमले में महिला का कान में चोट आई है। इसी तरह एक और चुनावी हिंसा में बागपत में रालोद नगर अध्यक्ष के भांजे को गोली मार दी गई।

प्रतापगढ़  में महिला की नाक काटने की कोशिश
प्रतापगढ़  में पीडि़ता दिव्यांग और उसके पति का आरोप है कि दूसरे दल को वोट देने पर बसपा समर्थकों ने यह हमला किया है। घायल महिला को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। संबंधित प्रत्याशी का कहना है कि किसी के उकसावे पर इस तरह का आरोप लगाया जा रहा है। प्रतापगढ़ के मांधाता क्षेत्र में मत्तू का पुरवा निवासी कृष्ण पटेल मजदूरी करता है। उसकी पत्नी रंजीता देवी (35) का आरोप है कि सुबह रानीगंज विधानसभा क्षेत्र से बसपा प्रत्याशी के लगभग आधा दर्जन समर्थक उसके घर पहुंचे और उनके प्रत्याशी को वोट नहीं देने की बात कहने लगे। इस पर विवाद होने लगा।
रंजीता का कहना है कि बसपा समर्थकों ने उसे लाठी डंडे से पीटना शुरू कर दिया। साथ ही धारदार हथियार से उसकी नाक पर हमला कर दिया, जिससे उसकी नाक कट गई। कान पर भी चोट आई। बीचबचाव करने पहुंचे रंजीता के पति कृष्ण व बच्चे विष्णु (18) व पूजा (14) को भी चोट आई। शोर मचने पर हमलावर भाग निकले। रानीगंज विधानसभा क्षेत्र से बसपा प्रत्याशी शकील अहमद का कहना है कि इस घटना के बारे में उनको कुछ नहीं पता। एसओ उमा शंकर यादव ने कहा कि चुनावी रंजिश में हमले की बात प्रारंभिक जांच में पुष्ट नहीं हुई है। गांव गए थे, वहां देवरानी-जेठानी के विवाद में मारपीट होने की जानकारी मिली है। 
रालोद नेता के भांजे को गोली मारी
बागपत के बड़ौत में कांशीराम कालोनी के पास रालोद के नगर अध्यक्ष इरफान मलिक के भांजे को चुनावी रंजिश के चलते गोली मार दी गई। उसे  मेरठ रेफर किया गया है। शहर में बोनटेक्स सेलेक्शन के मालिक वसीम मलिक रालोद के नगर अध्यक्ष के भांजे हैं। सोमवार को फूंस वाली मस्जिद के पास दुकान पर बैठे थे। इस दौरान उनका जानकार उन्हें कांशीराम कालोनी में ले जाने के बहाने से अपनी बाइक ले गया और गोली मार दी। आरोपी उसका मोबाइल लूटकर बाइक उठाकर भाग निकला। गंभीर हालत देखते हुए युवक को मेरठ रेफर कर दिया गया है। सूत्र बताते हैं कि घटना को रंजिश के कारण अंजाम दिया गया है। पीडि़तों ने बड़ौत के ही नीतिश के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कराया है। कोतवाल का कहना है कि आरोपी की तलाश की जा रही है।

Posted By: Nawal Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस