हैदराबाद।  तेलंगाना विधानसभा चुनाव 2018 के लिए 119 सीटों के लिए वोटिंग जारी है। चंद्रयान गुट्टा विधानसभा क्षेत्र से एआईएमआईएम (ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन) के अकबरुद्दीन ओवैसी के खिलाफ भाजपा ने मुस्लिम महिला प्रत्याशी सैयद शहजादी को मैदान में उतारा है।

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की नेता रह चुकीं शहजादी तेलंगाना के आदिलाबाद की रहने वाली हैं। ओवैसी 1999, 2004, 2009 व 2014 में विधायक रह चुके हैं और पार्टी प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी के भाई हैं।

उस्मानिया यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएट शहजादी ने आरोप लगाया था कि पिछले दो दशकों से नुमाइंदगी करने वाली एआईएमआईएम ने चंद्रयान गुट्टा विधानसभा क्षेत्र और पुराने हैदराबाद का कोई विकास नहीं किया। उन्होंने कहा कि कि वह पूछना चाहती हैं कि ओवैसी ने आपके लिए क्या किया? आपके जीवन में क्या अंतर आया? आपके बच्चों की शिक्षा का क्या हाल है और कितने लोगों को नौकरी मिली? कितने युवा इंजीनियर और डॉक्टर बने?'

शहजादी ने आरोप लगाया था कि पुराने हैदराबाद में आम आदमी का कल्याण नहीं हुआ। इनमें सामान्य मुस्लिम भी शामिल हैं। एआईएमआईएम ने यहां केवल सांप्रदायिक माहौल बनाया। भाजपा के सांप्रदायिक पार्टी होने के आरोपों को खारिज करते हुए उन्होंने कहा था कि यह अवधारणा उन्होंने बनाई है जो मुसलमानों का हित नहीं चाहते। भाजपा शासन ने ही मौलाना आजाद यूनिवर्सिटी हैदराबाद और उत्तर प्रदेश में मदरसों के लिए बजट को बढ़ाया था। 

Posted By: Prashant Pandey