जयपुर, जागरण संवाददाता। राजस्थान में विधानसभा चुनाव के लिए शुक्रवार को मतदान हुआ। लेकिन हनुमानगढ़ जिले के एक गांव के लोगों ने मतदान का बहिष्कार किया। प्रशासनिक अधिकारियों की ओर से कई दौर मेें समझाने के बाद भी ग्रामीण मतदान करने नहीं पहुंचे।

जानकारी के मुताबिक हनुमानगढ़ जिले के जसाना गांव में पवन व्यास हत्याकांड के संबंध में पुलिस की जांच से निराश मृतक के परिजन और ग्रामीणों ने सीबीआई जांच की मांग की थी। लेकिन इस बारे में कोई निर्णय नहीं होने पर ग्रामीणों ने मतदान का बहिष्कार कर दिया। जसाना गांव में पांच मतदान केन्द्र है, लेकिन,यहां एक भी वोट नहीं डाला जा सका।

ग्रामीणों द्वारा मतदान का बहिष्कार रखने के कारण सभी पोलिंग बूथ सूने रहे. मतदान दल के कर्मचारी पोलिंग बूथ पर मतदाताओं को इंतजार करते रहे। गौरतलब है कि दिसम्बर,2017 में गांव जसाना के अटल सेवा केंद्र के ई-मित्र संचालक पवन व्यास की गला काटकर हत्या कर दी गई थी। इस संबंध में नोहर थाने में हत्या का मामला दर्ज कराया गया था।

पुलिस जांच में हत्या का खुलासा नहीं होने पर ग्रामीण मामले में सीबीआई जांच की मांग कर रहे है। इस संबंध में हाल में ग्रामीणों की ओर से मतदान के बहिष्कार की चेतावनी दी गई थी। ग्रमीणों के मुताबिक इस संबंध में लगातार प्रशासन को ज्ञापन देने के बाद भी मांग पूरी नहीं होने पर मतदान का बहिष्कार किया गया है । गांव में कुल 6200 मतदाता है। 

Posted By: Preeti jha