जोधपुर/हैदराबाद। राजस्थान और तेलंगाना में जारी विधानसभा चुनाव के बीच इन दोनों राज्यों से भी ईवीएम में खराबी की सूचना आ रही है। राजस्थान में सरदारपुरा विधानसभा क्षेत्र बूथ संख्या 106 पर वीवीपेट में खराबी आई। यहां कांग्रेस के दिग्गज नेता अशोक गहलोत का भी वोट है। सुबह ही मतदान करने पहुंचे गहलोत को 10 मिनट इंतजार करना पड़ा। इसी तरह सीएम वसुंधरा राजे के बूथ पर भी ईवीएम खराबी की सूचना आई है। हालंकि चुनाव आयोग ने मध्यप्रदेश के चुनावों से सबक लेते हुए अपनी तकनीकी टीमों को तैनात किया है और जहां-जहां भी समस्याएं आ रही हैं, उन्हें तत्काल हल करने की कोशिश की जा रही है।

राजस्थान में अभी तक करीब 3 दर्जन से ज्यादा स्थानों पर ईवीएम खराब होने से मतदान की प्रक्रिया या तो देर से शुरू हुई, शुरू ही नहीं हो सकी है। इसे लेकर मुख्य निर्वाचन अधिकारी आनंद कुमार सक्रिय हुए हैं और संबंधित संबंधित जिला निर्वाचन अधिकारियों से रिपोर्ट ली जा रही है।

राजस्थान में जैसलमेर की तीन सीटों पर 10 बजे तक मतदान शुरू नहीं हो सका। यहां VVPAT में खराबी आई है। अधिकारियों ने बताया कि दूसरी मशीनें बुलवाई गई हैं।

भाजपा सरकार में मंत्री और मालवीय नगर विधानसभा सीट से उम्मीदवार कालीचरण सराफ को मतदान स्थल पर ईवीएम मशीन खराब होने से कुछ देर तक परिवार समेत खड़े रहना पड़ा। बाद में सराफ ने जय जवान कॉलोनी स्थित आदर्श विद्या मंदिर बूथ पर मतदान किया।

इसी तरह तेलंगाना में हैदराबाद के जीएचएमसी स्टेडियम के बूथ पर तकनीकी खराबी के कारण समय पर मतदान शुरू नहीं हो सका। 

भरतपुर के भुसावर में बूथ संख्या 189 पर 1 घंटे देरी से मतदान शुरू हुआ। ईवीएम की खराबी के कारण यह असुविधा हुई। जानकारी के मुताबिक, पहली मशीन में सिर्फ 16 बोट ही डाले गए, जिसके बाद EVM ख़राब हो गई।

मालूम हो, इससे पहले बीती 28 नवंबर को मध्यप्रदेश की सभी 230 सीटों के लिए वोटिंग हुई थी। वहां भी भारी संख्या में ईवीएम खराबी की शिकायत आई थी और मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस ने इसे मुद्दा बनाने की कोशिश की थी।

बहरहाल, इक्का-दुक्का स्थानों को छोड़कर राजस्थान और तेलंगाना में अधिकांश स्थानों पर मतदान जारी है। भारी संख्या में मतदाता सुबह से ही केंद्रों पर पहुंच गए। 

Posted By: Arvind Dubey