उदयपुर, संवाद सूत्र। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि राजस्थान में वसुंधरा सरकार अंगद का पांव है, जिसे कांग्रेस नहीं उखाड़ सकती। कांग्रेस तो खुद पंगु है, वह जनजाति का भला करने वाली नहीं है। शाह यहां उदयपुर के फतह सीनियर सेकेंडरी स्कूल में आयोजित मेवाड़-बागड़ के जनजाति सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे।

इससे पहले शाह ने भाजपा के शक्ति सम्मेलन में भी पार्टी की जीत के मंत्र बताए। साथ ही जनजाति सम्मेलन के बाद भाजपा के आइटी सदस्यों को भी संबोधित किया। जनजाति सम्मेलन में करीब 18 मिनट के भाषण में भाजपा अध्यक्ष ने वसुंधरा सरकार की तारीफ के पुल बांधे तथा उनके द्वारा जनजातियों के लिए लागू की गई योजनाओं की जानकारी दी।

शाह ने कहा कि भाजपा ही है जो जनजातियों के हित के बारे में सोचती है। उन्होंने कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी पर तंज कसते हुए कहा कि राहुल बाबा जनजातियों के हितों के बारे में क्या जानें। कांग्रेस ने 65 सालों में जनजातियों के हित का कोई काम नहीं किया। कांग्रेस और राहुल देश हित की बजाय बेसिरपैर के मुद्दों को उठा रहे हैं। शाह ने वसुंधरा सरकार एवं जनजातियों के लिए राज्य सरकार की लागू योजनाओं पर अपना भाषण फोकस रखा।

मैं भी बूथ से उठा हूं :

शाह ने जनजाति सम्मेलन से पहले भाजपा के शक्ति सम्मेलन को भी संबोधित किया। महज आठ मिनट के भाषण में उन्होंने भाजपा पदाधिकारियों एवं जनप्रतिनिधियों को कहा कि भाजपा ही है जिसने चाय बनाने वाले को प्रधानमंत्री और पोस्टर चिपकाने वाले को राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाया। उन्होंने कहा कि हमेेंें आज बूथ कार्यकर्ता होने का स्मरण हो रहा है। पार्टी बूथ के दम पर ही जीतती है, जबकि चुनाव कार्यकर्ताओं के लिए होता है।

आज हम दस सदस्यों से 11 करोड़ कार्यकर्ताओं तक पहुंच चुके हैं। उन्होंने कहा कि अब हमारा लक्ष्य 2019 का चुनाव जीतना है। इसके बाद वह आइटी सदस्यों के सम्मेलन में पहुंचे जहां भाजपा के चार हजार आइटी एक्सपर्ट को भी पार्टी की जीत के लिए काम करने के लिए प्रेरित किया। तीनों ही कार्यक्रम में राजस्थान के गृहमंत्री गुलाबचंद कटारिया, उच्च शिक्षा मंत्री किरण माहेश्वरी, मेवाड़-बागड़ के सात जिलों के सांसद, विधायक एवं अन्य भाजपा जन प्रतिनिधि मौजूद थे।

शाह कितनी भी बार आएं, नहीं जीतेगी भाजपा :

इस बीच, राजस्थान विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष एवं कांग्रेस नेता रामेश्वर डूडी ने कहा कि भाजपा अध्यक्ष अमित शाह राजस्थान के कितने भी दौरे करें, लेकिन उन्हें हार का सामना करना पड़ेगा। मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे की गौरव यात्रा की हवा निकल चुकी है। जनता सब जानती है। उन्हें पता है कि किसे वोट देना है। डूडी यहां उदयपुर यात्र पर आए हुए थे।

रामेश्वर डूडी ने कहा कि भाजपा सरकार ने मानसून सत्र महज तीन दिन के लिए बुलाया। हमने कम से कम दस दिन का सत्र चलाने की बात पर जोर दिया था, ताकि प्रदेश के ज्वलंत मुद्दों को सदन में रखा जा सके, लेकिन प्रदेश की सरकार उन मुद्दों पर बात करना ही नहीं चाहती। उन्होंने कहा कि भाजपा की वसुंधरा सरकार जनता का विश्वास खो चुकी है।

गौरव यात्रा की हवा निकल चुकी है। जनता अब सवाल पूछने लगी है जो वसुंधरा एवं उनके मंत्रियों पर नहीं। इसीलिए शाह बार-बार राजस्थान आ रहे है, लेकिन अब उनकी दाल गलने वाली नहीं। प्रदेश की जनता फिर से कांग्रेस को जिताने जा रही है।

 

Posted By: Preeti jha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस