जेएनएन, चंडीगढ़। पंजाब में स्वतंत्र एवं निष्पक्ष चुनाव के लिए राज्य के मुख्य चुनाव अधिकारी ने चुनाव आयोग से Paramilitary force की 250 कंपनियों की मांग की है। पिछले संसदीय चुनाव में राज्य को 199 कंपनियां मिली थीं। राज्य के 1421 बूथ अति संवेदनशील हैं। मुख्य चुनाव अधिकारी डॉ. एस करुणा राजू ने बताया कि चूंकि पंजाब में चुनाव आखिरी चरण में हैं, इसलिए हमें कितनी कंपनियां मिलेंगी, इसके बारे में सही पता नहीं चल पाएगा।

इतनी ज्यादा कंपनियां मांगने के सवाल पर उन्होंने कहा कि पंजाब के पांच जिले पाकिस्तान सीमा से सटे हैं। इसके अलावा पंजाब के साथ एक यूटी और तीन राज्यों की सीमाएं भी सटी हुई हैं। ऐसे में कानून व्यवस्था को बनाए रखने के लिए अतिरिक्त Paramilitary force की जरूरत है, जिसके लिए 250 कंपनियां मांगी गई हैं। डॉ करुणा राजू ने बताया कि पुलिस और सिविल अधिकारियों के साथ सभी जिलों में कानून व्यवस्था की समीक्षा कर ली गई है। 1421 बूथ अति संवेदनशील पाए गए हैं। इनकी गिनती घट बढ़ सकती है।

अब तक 199 करोड़ पकड़े

मुख्य चुनाव अधिकारी ने बताया कि चुनाव आचार संहिता लगने के बाद से प्रदेशभर में अब तक 199 करोड़ रुपये की राशि पकड़ी गई है। यह राशि किस उम्मीदवार या पार्टी से संबंधित है इस सवाल पर उन्होंने कहा कि अभी तक किसी पार्टी या उम्मीदवार की भूमिका सामने नहीं आई है। उन्होंने बताया कि 199 करोड़ रुपये की नकदी पकड़े जाने के अलावा पूरे प्रदेश में 600 किलो ड्रग्स मिली है। इसमें सभी तरह की ड्रग्स शामिल हैं।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

Posted By: Kamlesh Bhatt

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप