पुडुचेरी/चेन्नई, एजेंसियां। द्रमुक ने पुडुचेरी में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए शनिवार को 12 प्रत्याशियों के नामों की सूची जारी कर दी। बाकी बचा एक नाम जल्द घोषित किया जाएगा। द्रमुक इस राज्य में कुल 30 में से 13 सीटों पर चुनाव लड़ रही है। शेष सीट गठबंधन में शामिल दलों के पास हैं। वहीं तमिलनाडु में होने वाले विधानसभा चुनाव के सिलसिले में द्रमुक ने शनिवार को अपना घोषणा पत्र जारी कर दिया।

घोषणा पत्र में हरियाणा की तर्ज पर 75 प्रतिशत नौकरियां स्थानीय लोगों को देने का वादा किया गया है। हरियाणा सरकार ने इसी महीने राज्य की 75 फीसद नौकरियां प्रदेश के मूल निवासियों को देने की घोषणा की है। घोषणा पत्र में सरकार बनने पर हिंदू मंदिरों की यात्रा पर जाने के लिए एक लाख लोगों को 25-25 हजार रुपये की मदद देने का वादा किया गया है। साथ ही प्रसव अवकाश को भी बढ़ाने की बात कही गई है।

घोषणा पत्र में पेट्रोलियम उत्पादों के मूल्यों में कटौती और नीट पर प्रतिबंध लगाने का वादा भी किया गया है। राज्य द्वारा वसूले जाने वाले कर को कम कर पेट्रोल मूल्य में पांच रुपये प्रति लिटर और डीजल मूल्य में चार रुपये प्रति लीटर की कमी की जाएगी। कुकिंग गैस में 100 रुपये की अतिरिक्त सब्सिडी दी जाएगी। घोषणा पत्र जारी करते हुए द्रमुक अध्यक्ष एमके स्टालिन ने कहा, सरकार बनने पर सरकारी नौकरियों में फ्रेश ग्रेजुएट को प्राथमिकता दी जाएगी।

द्रमुक ने निजी क्षेत्र में भी आरक्षण लागू करने का वादा भी किया है। छोटे किसानों को कई तरह की छूट दी जाएंगी। इतना ही नहीं स्कूल और कॉलेज के छात्रों को डाटा के साथ मुफ्त में लैपटॉप दिए जाएंगे। साथ ही पूर्व मुख्यमंत्री जे जयललिता की मौत की परिस्थितियों की जांच के लिए जांच समिति गठित की जाएगी। राज्य में स्थित हिंदू मंदिरों की मरम्मत के लिए एक हजार करोड़ रुपये का प्रविधान किया जाएगा। गिरजाघरों और मस्जिदों के रखरखाव के लिए भी 200 करोड़ रुपये दिए जाएंगे।