नई दिल्ली (जेएनएन)। दिल्ली में सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी नगर निगम चुनाव में पहली बार ताल ठोंक रही है। उसके सामने जहां विगत दस वषों से निगम की सत्ता पर आसीन भाजपा से पार पाने की चुनौती है, वहीं दिल्ली की सत्ता पर वर्षों काबिज रह चुकी कांग्रेस से भी मुकाबला है। अप्रैल में पड़ रही भीषण गर्मी के बीच विभिन्न मुद्दे हवा में उछल रहे हैं, जो चुनावी माहौल में राजधानी की फिजा को और गरमा रहे हैं। ऐसे ही कुछ ज्वलंत मुद्दों पर आम आदमी पार्टी के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से दैनिक जागरण के सहायक संपादक सौरभ श्रीवास्तव व मुख्य संवाददाता वीके शुक्ला ने विशेष बातचीत की। प्रस्तुत हैं इस बातचीत के मुख्य अंश...। 

1. निगम चुनाव में सबसे बड़ा मुद्दा क्या है?

-गंदगी सबसे बड़ा मुद्दा है। मेरा सीधे तौर पर जनता से कहना है कि इस चुनाव में भाजपा को वोट दिया तो इसी तरह कूड़े के ढेर में रहना पड़ेगा। इसी तरह निगम के छोटे-छोटे काम के लिए रिश्वत देनी होगी। जनता ये समझे कि जिस भाजपा ने दस साल में कुछ नहीं किया वह अब क्या करेगी?

2. निगम चुनाव में कौन सी बातें आपके पक्ष में हैं?

-हमने देश के किसी भी राज्य के मुकाबले सस्ती बिजली दिल्ली वालों को उपलब्ध कराई है। पानी मुफ्त करके दिखाया है। मोहल्ला क्लीनिक की दुनिया भर में तारीफ हो रही है। अस्पतालों में दवाइयां व टेस्ट मुफ्त किए। निजी अस्पतालों में ऑपरेशन कराने की सुविधा शुरू की है। सरकारी स्कूलों में सुधार किया है। निजी स्कूलों में दो साल से फीस नहीं बढ़ने दी है। यही नहीं, स्कूलों से बढ़ी फीस वापस भी करवाई है।

3. राजौरी गार्डन में हुए विधानसभा उपचुनाव में हार हुई, निगम चुनाव सिर पर हैं, क्या सोचते हैं?

-यह ठीक वैसे ही हुआ, जब मैंने 49 दिन की सरकार के समय मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था। उस समय लोग मुझसे बहुत नाराज हो गए थे, लेकिन मुझे लोगों को समझाने का कुछ समय मिल गया था, माफी भी मांगी थी। राजौरी गार्डन के मामले में समय नहीं मिला। लोगों की नाराजगी दूर नहीं हुई। हालांकि, राजौरी गार्डन का नगर निगम चुनाव से कोई संबंध नहीं है। हम निगम चुनाव को लेकर इस सीट पर सर्वे करा रहे हैं, जिसके नतीजे हमारे पक्ष में हैं।

4. पूर्व उपराज्यपाल नजीब जंग से आपके तल्ख रिश्ते रहे। उपराज्यपाल अनिल बैजल को लेकर आपकी कैसी राय है?

-शुरू में तो यही लग रहा था कि वह सुलझे हुए हैं, लेकिन पिछले 15 दिनों में वह जिस तरह से हमारी सरकार के खिलाफ फैसले दे रहे हैं। उससे तो यही लगता है कि वह अपने पूर्ववर्ती नजीब जंग की राह पर चल पड़े हैं। मुझे तो ये लगता है कि यह सब पीएमओ के निर्देश पर हो रहा है। मुझे परेशान करने की कोशिश की जा रही है।

5. शुंगलू कमेटी की रिपोर्ट को किस रूप में ले रहे हैं?

-जिस समय शुंगलू कमेटी की जांच बैठाई गई तो लग रहा था कि पता नहीं कमेटी क्या कर देगी? मगर हम शुंगलू कमेटी को धन्यवाद देते हैं कि उन्होंने सरकार को ईमानदारी का प्रमाणपत्र दिया है। एक पैसे का भ्रष्टाचार उन्हें नहीं मिला है। हां, फाइलों पर उपराज्यपाल से  स्वीकृति नहीं ली थी, वह उस समय हमारा स्टैंड था। परेशान करने के लिए एलजी साहब ने हमारी कई फाइलें रोक रखी हैं, जिन्हें एक-एक कर रिलीज कर रहे हैं। सरकार को काम न करने देने के लिए सीबीआइ ने मनीष सिसोदिया के खिलाफ तीन और सत्येंद्र जैन के खिलाफ चार फर्जी मुकदमे दर्ज किए हैं। मेरे दफ्तर में सीबीआइ का छापा मरवाया गया है।

6. वकील राम जेठमलानी फीस, विज्ञापन के 97 करोड़ और आप मुख्यालय को खाली कराने का नोटिस, इसपर आपका क्या कहना है?

-राम जेठमलानी जी मेरे निजी वकील नहीं, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के वकील हैं। जहां तक 97 करोड़ की रिकवरी या आप मुख्यालय खाली कराने के नोटिस की बात है तो इसी तरह के मामले में दूसरों के लिए छूट है, लेकिन मुझे घेरा जा रहा है, जिससे यह साफ है कि ये सब राजनीति से प्रेरित है।

7. पिछले कुछ दिन से आप मोदी जी पर सीधा हमला करने से बच रहे हैं?

-मैं मुद्दों पर बात करता हूं, कभी निजी तौर पर किसी पर कमेंट नहीं करता। मोदी जी ने स्वच्छता अभियान व योग जैसे अच्छे काम शुरू किए तो हमने उनका समर्थन भी किया, जबकि निगम में सत्तासीन उनकी भाजपा ने भ्रष्टाचार के चलते मोदी जी का स्वच्छता अभियान ही फेल कर दिया।

8. अन्ना आप को लेकर कई बार तीखे बयान दे चुके हैं? आप का क्या कहना है?

-अन्ना जी का मैं बहुत आदर करता हूं। जहां तक बयान की बात है तो भाजपा उनसे जो बुलवाती है, वह वही बोलते हैं। उनसे कहा है कि आप आइए दिल्ली सरकार द्वारा स्वास्थ्य और शिक्षा आदि के क्षेत्र में कराए जा रहे कार्य देखिए, लेकिन हमारी बात उन तक नहीं पहुंच पाती।

9. कुमार विश्वास ने 13 मिनट के वीडियो में आप पर भी सवाल उठाए हैं?

-(कुछ मुस्कराकर) कुछ लोग ये समझ रहे हैं कि मेरी और कुमार विश्वास की नहीं बन रही है। मैं बता दूं कि हम दोनों में कोई अनबन नहीं है। वह पार्टी ही नहीं, मेरे परिवार के भी सदस्य हैं। कुछ देर पहले कुमार मेरे पास ही थे। अगले दो-तीन दिन के बाद वह प्रचार करते दिखेंगे। जहां तक वीडियो की बात है तो उस वीडियो ने दिल को छू लिया है। मैं उन्हें बधाई देता हूं। उन्होंने कई ज्वलंत मुद्दों को उठाकर व्यवस्था को झकझोरा है। उसे हर किसी को देखना चाहिए। हमारे बारे में भी उन्होंने कुछ कहा है तो मैं उस पर भी जरूर विचार करूंगा।

यह भी पढ़ेंः जानें क्यों फफक-फफककर रोने लगे दिल्ली भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी 

यह भी पढ़ेंः मनोज तिवारी का केजरीवाल पर हमला- उनकी 56 ईंच की जीभ जो चाहे बोलें 

MCD चुनाव से जुड़ी खबरों के लिए क्लिक करें

Posted By: JP Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस