इंदौर। प्रदेश की एक महिला विधायक ऐसी हैं जो पिछले तीन चुनाव से विधायक चुनी जा रही हैं, लेकिन हर बार जीतने के बाद भी उनकी विधानसभा सीट को बदल दिया जाता है। इंदौर जिले की विधायक उषा ठाकुर हर बार चुनाव जीतती हैं, लेकिन किसी ना किसी वजह से उनकी विधानसभा सीट को पार्टी द्वारा बदल दिया जाता है। इस बार भी उनकी सीट बदलकर उन्हें महू से उतारा गया, जहां उन्होंने एक बार फिर जीत हासिल की।

आरएसएस के कोटे से उषा ठाकुर को पहली बार इंदौर की विधानसभा एक से टिकट दिया गया था,जहां से पहली बार वे विधायक चुनकर आईं थी। अगले चुनाव में पार्टी ने उनकी सीट बदलकर इंदौर की विधानसभा तीन से उन्हें टिकट थमाया था। जहां से एक बार फिर उषा ठाकुर ने कांग्रेस की इस परंपरागत सीट पर जीत हासिल कर अपनी ताकत साबित की थी।

इस बार भी पार्टी के भीतर बदले समीकरणों में उषा ठाकुर की विधानसभा सीट बदलकर उन्हें जिले की सबसे मुश्किल सीट पर भेज दिया गया था,जिसका उन्होंने पार्टी के भीतर विरोध भी किया था, लेकिन 11 दिसंबर को आए परिणामों के बाद एक बार फिर महू की जनता ने उषा ठाकुर को अपना विधायक चुन लिया है।  

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस