भोपाल। मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव में सभी का ध्यान दिग्गज नेताओं के गढ़ पर है। शिवराज सिंह चौहान के गढ़ बुधनी में इस बार उनके सामने कांग्रेस के अरुण यादव रहे, शिवराज की ओर से यहां उनकी पत्नी साधना सिंह और बच्चों ने चुनाव प्रचार की कमान संभाली थी। वहीं कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने अपने गढ़ छिंदवाड़ा और सांसद ज्योतिरादित्य ने ग्वालियर-चंबल अंचल में जगह-जगह जाकर प्रचार किया। ज्योतिरादित्य के प्रभाव वाली गुना सीट पर भाजपा के गोपीलाल जाटव और कांग्रेस के चंद्रप्रकाश अहिरवार मैदान में हैं, वहीं छिंदवाड़ा सीट पर भाजपा के चौधरी चंद्रभान सिंह और कांग्रेस के दीपक सक्सेना मैदान में है। मंगलवार को मतगणना शुरू होने के बाद सबकी निगाहें इसी पर रहेंगी।

किस दिग्गज के सामने कौन मैदान में

- होशंगाबाद में भाजपा छोड़कर कांग्रेस में शामिल हुए सरताज सिंह और भाजपा के सीताशरण शर्मा के बीच मुकाबला है। सरताज सिंह यहां से लंबे समय से विधायक रहे हैं और भाजपा द्वारा टिकट न मिलने के बाद उन्होंने कांग्रेस का दामन थाम लिया था।

- दमोह में मंत्री जयंत मलैया का मुख्य मुकाबला उनकी ही पार्टी छोड़कर निर्दलीय के रूप में उतरे रामकृष्ण कुसमरिया के साथ है। उधर कांग्रेस के राहुल सिंह भी यहां मैदान में हैं।

- भोपाल की गोविंदपुरा सीट पर कई वर्षों से बाबूलाल गौर चुनाव जीत रहे हैं, इस बार उनकी बहू कृष्णा गौर को यहां भाजपा की ओर से चुनाव लड़ी हैं। उनके सामने कांग्रेस की ओर से गिरीश शर्मा है।

- विजयराघवगढ़ में भाजपा के सबसे अमीर उम्मीदवार संजय पाठक का मुकाबला कांग्रेस की पद्मा शुक्ला के साथ है। विजयराघवगढ़ से पाठक पहले भी विधायक रहे हैं।

- भोपाल के पास भोजपुर से सुरेंद्र पटवा का मुकाबला सुरेश पचौरी से है।

- भिंड के अटेर से कांग्रेस के हेमंत कटारे से चुनाव मैदान में है। इसके पहले यहां से उनके पिता विधायक थे और उनके निधन के बाद हुए उपचुनाव में हेमंत ने जीत दर्ज की थी। इस बार भी हेमंत का मुकाबला भाजपा के अरविंद सिंह भदौरिया के साथ है।

- लहार में मुख्य मुकाबला कांग्रेस के डॉ. गोविंद सिंह और भाजपा के रसाल सिंह के बीच है। दोनों का ही इस क्षेत्र में काफी दबदबा है।

- इंदौर की राऊ विधानसभा में कांग्रेस के जीतू पटवारी विधायक रहे, इस बार उनका मुकाबला भाजपा के मधु वर्मा के साथ है।

- राघौगढ़ सीट से कांग्रेस विधायक जयवर्धन सिंह फिर चुनाव मैदान में हैं। इस सीट से उनके पिता दिग्विजय सिंह लगातार चुनाव जीतते आए हैं। यहां से भाजपा के भूपेंद्र सिंह रघुवंशी चुनाव मैदान में है।

- विदिशा सीट भाजपा गढ़ मानी जाती है, पार्टी यहां 1980 के बाद से एक बार भी चुनाव नहीं हारी। यहां से भाजपा के मुकेश टंडन और कांग्रेस के शशांक भार्गव आमने सामने हैं।

- भोपाल उत्तर सीट पर कांग्रेस के आरिफ अकील पांच बार से विधायक रहे हैं, उनके सामने इस बार भाजपा की ओर से फातिमा रसूल सिद्दिकी हैं।

- मंत्री उमाशंकर गुप्ता ने भोपाल दक्षिण सीट से चुनाव लड़ा है, वे यहां से लगातार तीन बार जीत चुके हैं। लेकिन इस बार उनका मुकाबला यहां कांग्रेस के पीसी शर्मा और आम आदमी पार्टी के आलोक अग्रवाल से है।

- चुरहट सीट से एक बार फिर कांग्रेस के अजय सिंह (राहुल) चुनाव लड़ रहे हैं। इस सीट पर 40 साल से कांग्रेस नहीं हारी। इसके पहले अजय सिंह के पिता और मप्र के पूर्व सीएम अर्जुन सिंह यहां से चुनाव लड़ते थे। इनके सामने भाजपा की ओर से शरतेंदु तिवारी खड़े हैं।

- यशोधरा राजे सिंधिया अपने गढ़ शिवपुरी सीट से चुनाव लड़ रही है। सिंधिया परिवार का इस सीट पर दबदबा रहा है। यहां कांग्रेस की ओर से सिद्धार्थ लाढ़ा मैदान में हैं।  

इंदौर विधानसभा 1:  यहां से भारतीय जनता पार्टी ने सुदर्शन गुप्ता और कांग्रेस ने संजय शुक्ला को चुनाव मैदान में उतारा है।

इंदौर विधानसभा 2: यहां से भारतीय जनता पार्टी ने रमेश मेंदोला और कांग्रेस ने मोहन सेंगर चुनावी मैदान में है। 

इंदौर विधानसभा 3: यहां से भारतीय जनता पार्टी ने आकाश विजयवर्गीय और कांग्रेस ने अश्विन जोशी को चुनाव मैदान में उतारा है। 

इंदौर विधानसभा 4:  यहां से भारतीय जनता पार्टी ने श्रीमती मालिनी गौड़ और कांग्रेस ने सुरजीत सिंह चड‌्डा को चुनाव मैदान में उतारा है।

इंदौर विधानसभा 5:  इस सीट से भारतीय जनता पार्टी ने महेंद्र हर्डिया और कांग्रेस ने सत्यनारायण पटेल को चुनावी मैदान में उतारा है।

राऊ विधानसभा क्षेत्र: यहां से भारतीय जनता पार्टी ने महादेव वर्मा और कांग्रेस ने जीतू पटवारी को चुनाव मैदान में उतारा है।

Posted By: Prashant Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप