भोपाल। मप्र के पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल गौर द्वारा की जा रही लगातार बयानबाजी को भाजपा ने गंभीरता से लिया है। सरताज सिंह को टिकट न देने पर भाजपा की आलोचना करने के बाद प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने इशारों-इशारों में चेतावनी दी थी कि कोई भी नेता हो, अनुशासनहीनता बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

सूत्रों के मुताबिक, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी इस बयानबाजी से नाराज होकर गोविंदपुरा से भाजपा प्रत्याशी और बाबूलाल गौर की बहू कृष्णा गौर से बातचीत की है।

सूत्रों का कहना है कि शनिवार शाम को मुख्यमंत्री ने प्रदेश पदाधिकारियों के साथ पांच-पांच मिनट वन-टू-वन बातचीत की थी। इस दौरान उन्होंने कृष्णा गौर से बाबूलाल गौर द्वारा लगातार की जा रही बयानबाजी पर नाराजगी प्रकट की। इसके बाद कृष्णा गौर ने मुख्यमंत्री को भरोसा दिलाया है कि अब इस तरह के बयान नहीं आएंगे।

गौरतलब है कि एक दिन पहले प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह भी बाबूलाल गौर को चेतावनी दे चुके हैं कि गौर हो या कोई और, अनुशासनहीनता बर्दाश्त नहीं की जाएगी। गौर ने कुछ दिन पहले कहा था कि भाजपा ने सरताज सिंह को टिकट न देकर उनका अपमान किया है। वहीं, शनिवार को उन्होंने कहा था कि यदि गोविंदपुरा से कृष्णा गौर को टिकट नहीं मिलता तो वे भाजपा को देख लेते। 

जीतेगा भारत हारेगा कोरोन

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस