इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि। किसी के घर में शादी या अन्य कार्यक्रम है तो 200 से 500 साड़ियां लोग खरीदते हैं लेकिन 5000 साड़ियां एक साथ खरीदी जाएं तो यह बात सामान्य नहीं है। चुनाव के दौरान ऐसी खरीदी पर दुकानदार और ग्राहकों पर चुनाव आयोग और आयकर विभाग दोनों की नजर रहेगी। हमने फील्डिंग जमा दी है, मुखबिर भी तैनात कर दिए हैं। अन्य माध्यमों से भी प्रत्येक प्रत्याशी पर भी नजर रखी जा रही है। यह बात प्रेस क्लब में कलेक्टर व जिला निर्वाचन अधिकारी निशांत वरवड़े ने चुनाव संबंधित सवालों के जवाब में कहीं।

इसमें डीआईजी हरिनारायणचारी मिश्र भी मौजूद थे। कलेक्टर ने बताया कि मुख्य चुनाव आयुक्त ने भी हमारी तैयारियों पर संतुष्टि जताई है और इंदौर प्रदेश में सबसे ज्यादा सीटों व जनसंख्या की दृष्टि से बड़ा है। यहां लगभग सभी सीटें संवेदनशील हैं। हमने सभी प्रमुख मॉल, प्रमुख दुकानदारों, इलेक्ट्रॉनिक्स शोरूम, साड़ी होलसेलर, कार व दोपहिया वाहन डीलर व अन्य को पत्र लिखा है और कहा है कि यदि आपसे कोई भी व्यक्ति सामान्य से अधिक मात्रा में कोई वस्तु खरीदी करता है तो उनकी जानकारी हमें दें।

145 केंद्र अति संवेदनशील

डीआईजी हरिनारायणचारी मिश्र ने बताया कि इस बार अधिक पुलिस बल लगाया जा रहा है। मतदान केंद्र बढ़े और क्षेत्र को संवेदनशील केंद्रों की सूची में आने से 20 एसएफ व सीएसएफ की कंपनियां लगाई जा रही हैं। जिले में 562 संवेदनशील केन्द्र हैं, जिसमें 145 अतिसंवेदनशील हैं। आचार संहिता के बाद अब तक 15800 से अधिक अपराधियों पर कार्रवाई हो चुकी है।  

Posted By: Prashant Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप