भोपाल। सांसद और विधानसभा चुनाव के अभियान समिति के अध्यक्ष ज्योतिरादित्य सिंधिया को डिप्टी सीएम या प्रदेश अध्यक्ष बनाने की मांग करने के लिए दो दिन से दिल्ली में डटे सिंधिया समर्थक रविवार को भोपाल के लिए रवाना हो गए। दूसरे दिन सिंधिया ने इन लोगों को समझाइश दी और कहा कि उनकी कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से बात हो गई। आप लोगों के साथ न्याय होगा।

सिंधिया समर्थक विधायक प्रद्युम्नसिंह तोमर, इमरती देवी, मुन्ना लाल गोयल, जजपाल सिंह जज्जी, गोपाल सिंह चौहान, ओपीएस भदौरिया, बृजेंद्र सिंह यादव, सुरेश राठखेड़ा, बनवारीलाल शर्मा, रघुराज सिंह कंसाना, गिरिराज दंडोतिया, कमलेश जाटव, रणवीर जाटव, रक्षा सिरोनिया, सुनील सर्राफ व नीरज दीक्षित और हारे प्रत्याशी रामनिवास रावत, राजेंद्र भारती व श्रीकांत चतुर्वेदी रविवार को दिल्ली के सिंधिया निवास पर दूसरे दिन भी पहुंचे। इन लोगों के साथ उनके कई समर्थक भी थे। ये लोग धरने पर बैठते इसके पहले ही सिंधिया ने सभी को बंगले में बुलाकर समझाइश दी और भोपाल में मुख्यमंत्री के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने को कहा।

सूत्रों के मुताबिक सिंधिया ने शनिवार की रात को राहुल गांधी के निवास पर उनसे मुलाकात की। दोनों ने रात को साथ में भोजन भी किया। सिंधिया ने अपने समर्थक विधायकों, हारे प्रत्याशियों और अन्य लोगों को धरना देने से रोकते हुए समझाइश देते हुए कहा कि राहुल गांधी ने कहा है कि आप लोगों के साथ न्याय होगा।

सिंधिया समर्थक रविवार दोपहर बाद वापस मध्यप्रदेश लौटने लगे और कई ट्रेनों से उसी समय लौट आए। कुछ विधायक रात को विमान से भोपाल के लिए रवाना हुए। गौरतलब है कि शनिवार को सिंधिया के सफदरजंग रोड स्थित निवास के सामने समर्थकों ने धरना दिया था और रात को स्थगित कर दिया था। 

Posted By: Hemant Upadhyay

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप