मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

कुर्सियांग, पश्चिम बंगाल (पीटीआइ)। तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने शुक्रवार को राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद को सैन्य अफसरों की ओर से लिखे पत्र पर अपनी सहमति व्यक्त की, जिन्होंने राजनीतिक उद्देश्यों के लिए देश के जवानों के कथित इस्तेमाल पर नाराजगी जताई है।

पश्चिम बंगाल के कुर्सियांग में एक रैली को संबोधित करते हुए बनर्जी ने कहा, 'हमें अपने जवानों पर गर्व है, लेकिन मैंने कभी भी प्रधनामंत्री मोदी की तरह जवानों के उपलब्धि के नाम पर वोट नहीं मांगा।'

बनर्जी ने कहा कि मौजूदा लोकसभा चुनावों में क्षेत्रीय दल प्रमुख भूमिका निभाएंगे, उन्होंने कहा कि हम केंद्र में सरकार बनाएंगे।

उन्होंने दावा किया कि भाजपा के लिए लोकसभा में 100 सीट का आंकड़ा पार करना मुश्किल होगा। कुर्सियांग के लिए अपनी विकास योजनाओं को साझा करते हुए, टीएमसी प्रमुख ने कहा कि उनकी सरकार शहर में एक विश्वविद्यालय और एक पर्यटक लॉज बनाएगी।

मुख्यमंत्री ने कहा, 'यह दुखद है कि भाजपा को दार्जिलिंग में कोई उम्मीदवार नहीं मिला। उसे चुनाव लड़ने के लिए मणिपुर से किसी को लाना पड़ा।'

राम मंदिर नहीं बना पायी भाजपा

हाल ही में एक रैली में ममता ने भाजपा पर मंदिर नहीं बनवाने को लेकर तंज कसा था। ममता ने कहा था कि भाजपा पांच साल में राम मंदिर नहीं बना पाई, जिसका वादा किया था, वह भूल गई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी साढ़े चार साल विदेशों में घूमते रह गए। देश को भूल गए। भाजपा के कार्यकाल में आतंकवादी हमले अधिक हुए। जवान शहीद हो रहे है। भाजपा राष्ट्रवाद की बात कर रही है। भाजपा सभी तरफ हार को देख कर बंगाल को जितने की बात करती है। 

Posted By: Nitesh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप