रांची, राज्‍य ब्‍यूरो। Jharkhand Lok Sabha Election 2019 6th Phase - लोकसभा चुनाव के छठे चरण में झारखंड की 4 लोकसभा सीटों के लिए 65.17 फीसद मतदान हुआ है। निर्वाचन आयोग के मुताबिक सर्वाधिक आैर शांतिपूर्ण ढंग से सिंहभूम में 67.68 फीसद वोटिंग हुई। नक्‍सल प्रभावित इस इलाके में सबसे बढ़-चढ़कर मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया।

गिरिडीह में 65.93, धनबाद में 61.90 और जमशेदपुर में 66.44 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। सभी मतदान केंद्रों पर लोकतंत्र के इस महती उत्‍सव में शरीक होने के लिए वोटरों की लंबी कतारें सुबह से लगी रहीं। रविवार को वोट के लिए नियत समय 7 बजे से करीब एक घंटे पहले ही बड़ी संख्‍या में मतदाता वोट डालने बूथों पर पहुंच गए। महिलाओं और युवाओं में वोट डालने को लेकर खासा उत्‍साह देखा गया।

निर्वाचन आयोग के मुताबिक इन चार सीटों पर शाम तीन बजे तक 58.08 फीसद मतदान हुआ था। गिरिडीह में 60.24, धनबाद में 54.66, जमशेदपुर में 58.74 तथा सिंहभूम संसदीय क्षेत्र में 59.96 फीसद वोटरों ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया था।

इधर पश्चिमी सिंहभूम जिले के गोईलकेरा इलाके में नक्सलियों ने फायरिंग कर दहशत फैलाने की कोशिश की। यहां एक मतदान केंद्र के समीप तीन राउंड फायरिंग की गई। हालांकि, इससे मतदान पर कोई प्रभाव नहीं पड़ा। पुलिस ने सूचना मिलते ही मोर्चा संभाला आैर जवाबी फायरिंग की। फायरिंग गोईलकेरा के नरसंडा में की गई। यहां स्कूल पर मतदान केंद्र है। स्कूल चौकीबुरू पहाड़ के समीप है। फायरिंग इसी पहाड़ से की गई।  

इधर धनबाद में निर्दलीय प्रत्‍याशी सिद्धार्थ गौतम के प्रचार वाहन में करीब डेढ़ लाख रुपये नकद के साथ चार लोगों के पकड़े जाने की सूचना है। वासेपुर में मतदान केंद्रों पर बड़ी संख्‍या में मुस्लिम मतदाता वोट डालने पहुंचे। गिरिडीह के नक्‍सल प्रभावित क्षेत्र पीरटांड़ में शांतिपूर्ण मतदान हुआ ।

इधर जमशेदपुर के झामुमो उम्‍मीदवार चंपई सोरेन के बेटे बाबूलाल सोरेन को पुलिस ने आदर्श आचार संहिता उल्‍लंघन के मामले में धालभूमगढ़ से गिरफ्तार किया है। सिंहभूम के मंझगांव इलाके में एक मतदान केंद्र पर भाजपा और कांग्रेस कार्यकर्ताओं में मारपीट के बीच पुलिस ने लाठीचार्ज किया। इसमें एक कांग्रेस कार्यकर्ता का हाथ टूट जाने की खबर है।

उमस भरी गर्मी और कड़ी धूप के बावजूद इन चार सीटों पर एक बजे तक 44.72 फीसद मतदान हुआ था। गिरिडीह में 45.55, धनबाद में 40.92, जमशेदपुर में 47.34 तथा सिंहभूम संसदीय क्षेत्र में 46.35 फीसद वोटरों ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया।

जमशेदपुर में शादी से पहले एक मतदान केंद्र पर वोट देने पहुंची दुल्‍हन।

झारखंड की इन चार सीटों पर 11 बजे तक 30.23 फीसद वोट पड़े। गिरिडीह में 32.24, धनबाद में 29.03, जमशेदपुर में 29.33 तथा सिंहभूम में 30.80 फीसद मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। यहां सुबह नौ बजे तक 14.60 फीसद वोट पड़े थे। गिरिडीह में 13.94, धनबाद में 12.08, जमशेदपुर में 17.89 तथा सिंहभूम में 15.15 फीसद मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया है। कुछ केंद्रों पर शुरुआती दौर में ईवीएम की खराबी के कारण मतदान देर से शुरू होने की खबर है।

नक्सल प्रभावित गिरिडीह संसदीय क्षेत्र के पीरटांड़ के पड़रियाटांड़ और हरलाडीह में मतदान के लिए महिला-पुरुष वोटरों में भारी उत्‍साह देखा गया। यहां पोलिंग बूथों पर लंबी कतारें लगी हैं।

झारखंड ने बनाया रिकॉर्ड, देशभर में सबसे आगे
निर्वाचन आयोग से प्राप्‍त जानकारी के मुताबिक लोकसभा चुनाव के छठे चरण में रविवार को हो रहे मतदान के बीच झारखंड में सुबह नौ बजे तक सर्वाधिक मत प्रतिशत दर्ज किया गया। यहां की चार सीटों पर करीब 15 फीसद वोट डाले गए हैं। जबकि बिहार में 9.03, हरियाणा में 3.74, मध्‍य प्रदेश में 4.01, उत्‍तर प्रदेश में 6.86, पश्चिम बंगाल में 6.58 और दिल्‍ली में महज 3.74 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया है।

इधर झारखंड की चार सीटों पर वोट देने वालों में महिलाओं ने बाजी मारी हुई है। उनमें पहले मतदान फिर जलपान का क्रेज दिख रहा है। धनबाद के कतरास, गिरिडीह लोकसभा के नक्सल प्रभावित टुंडी के बूथों पर उमस भरी गर्मी के बावजूद लोग मतदान केंद्रों पर डटे हैं। महिलाओं की सबसे अधिक भीड़ यहां के बूथों पर दिख रही है। पूर्वी टुंडी के बलरडीह बूथ पर लोग 3 किलोमीटर दूर से वोट देने के लिए पहुंचे।

धनबाद लोकसभा क्षेत्र के 2378 मतदान केंद्रों पर सुबह सात बजते ही मतदानकर्मियों ने मोर्चा संभाल लिया। यहां मतदान शुरू होने से पहले ही मतदाताओं की कतार लग गई है। चुनाव मैदान में भाजपा प्रत्याशी वर्तमान सांसद पीएन सिंह और कांग्रेस प्रत्याशी कीर्ति झा आजाद समेत 20 प्रत्याशी खड़े हैं। इन सभी का भविष्य 18.51 लाख मतदाता तय करेंगे। झरिया विधानसभा क्षेत्र के चासनाला मतदान केंद्र पर सुबह ही लंबी कतार लग गई।

धनबाद में एक मतदान केंद्र पर अपनी बारी का इंतजार करते मतदाता।

इधर जमशेदपुर लोकसभा सीट पर कुल 1885 मतदान केंद्रों पर सात बजते ही मतदान शुरू हो गया। इनमें 662 अति संवेदनशील और 699 संवेदनशील बूथ हैं। 233 मतदान केंद्रों से वेबकास्टिंग की जा रही है। जमशेदपुर संसदीय क्षेत्र में कुल 129 आदर्श मतदान केंद्र हैं।  25 मतदान केंद्र ऐसे हैं जहां पूरी तरह महिला कर्मचारी चुनाव कराएंगी। मतदान केंद्र के लिए 8811 कर्मियों की प्रतिनियुक्ति की गई है। शहरी क्षेत्र में 683 और ग्रामीण इलाके में 1202 मतदान केंद्र हैं। 17  लाख 1398 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे।

पहले मतदान फिर जलपान यह नजारा बूथों पर देखने को मिल रहा है। बाघमारा के बूथों में मतदाता सुबह सुबह वोटिंग के लिए लंबी कतार लगाए हुए हैं। सरकार की ओर से वोटिंग प्रतिशत बढ़ाने के लिए चलाए गए मतदाता जागरूकता अभियान का असर बूथों में दिख रहा है ।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Alok Shahi