वासेपुर, जेएनएन। हर जुमे को नमाज से पहले मस्जिदों में लोकतंत्र का फर्ज अदा कर रहे हैं। तकरीबन 40 मस्जिदों में जागरुकता पर्ची बांट रहे हैं, ताकि हर शख्स लोकतंत्र का जश्न मनाए। यह कहना था वासेपुर के युवाओं का। अवसर था दैनिक जागरण की ओर से आयोजित युथ चौपाल का। 

वासेपुर के युवाओं के बोलः गैंग्स ऑफ वासेपुर की पहचान को मिटाने के लिए यहां की तस्वीर बदलनी होगी। इसे एजुकेशन हब की पहचान दिलाना चाहते हैं। यह तभी मुमकिन होगा जब इलाके के हर घर के लोग मतदान करेंगे और सर्वाधिक वोटिंग का रिकॉर्ड बनाएंगे। 

शिक्षा, स्वास्थ्य और रोजगार के लिए सिर्फ कोरा वादा नहीं बल्कि इरादा वाली शख्सीयत को वोट करेंगे। 

ये भी पढ़ें - अभाविप चलाएगी मतदाता जागरूकता अभियान

-मो. नेहालुद्दीन, वासेपुर

पढ़ लिखकर डिग्रियां लेकर भटकना न पड़े। ऐसे जनप्रतिनि का चुनाव इस बार खुद करेंगे और दूसरों को प्रेरित भी करेंगे।

-मो. इजाज, नूरी रोड

अरसे से इस इलाके को बदलाव का इंतजार है। उसे मुकाम तक पहुंचाने वाले को अपना वोट देंगे।

-अंजुम इरशाद, निशात नगर

बेहतर शिक्षा, अच्छी स्वास्थ्य सेवा और रोजगार। यही तीन सुविधाएं देने वाले जनप्रतिनिधि को मतदान करेंगे।

-मो. कौशर, कमर मखदुमी रोड

हर जूमे को नमाज के बाद जागरुकता पर्ची बांटता हूं। लोगों को बताता हूं कि आपका वोट बेशकीमती है। किसी को भी चुने पर वोट जरूर दें।

-मो. शहबाज, कमर मखदुमी रोड

नफरत नहीं अधिकार चाहिए, शिक्षा और रोजगार चाहिए : नफरत नहीं अधिकार चाहिए, शिक्षा और रोजगार चाहिए...। यह कहना था वासेपुर के कारोबारी और समाजसेवी अबू तारिक का। उन्होंने युवाओं से गुजारिश की कि जिस तरह हर जूमे को मस्जिदों में लोकतंत्र का फर्ज अदा कर रहे हैं। उसी तरह वोट देकर लोकतंत्र का जश्न भी मनाएं। कहा कि बहुमत वाली केंद्र और राज्य सरकार होने के बाद भी वासेपुर की तस्वीर नहीं बदल सकी। यहां के युवा अपनी मेहनत के बदौलत इलाके की नई पहचान गढ़ रहे हैं। इस चुनाव यहां के हर शख्स को वोटिंग के लिए जागरूक करेंगे।  

चुनाव की विस्तृत जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

Posted By: mritunjay

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप